सब रजिस्टर लहरपुर की घूसखोरी हुई आम बगैर लिए दिए नहीं करते कम

सब रजिस्टर लहरपुर की घूसखोरी हुई आम बगैर लिए दिए नहीं करते कम

सब रजिस्टर लहरपुर की घूसखोरी हुई आम बगैर लिए दिए नहीं करते कम

निष्पक्ष जन अवलोकन

सतीश कुमार सिंह 

पीड़ित ने डीएम व एसपी से लगाई न्याय की गुहार।

सीतापुर:अब जमीन रजिस्ट्री करवाना हो गया और महंगा क्योंकि सब रजिस्ट्रार साहब ने रिश्वत लेने के लिए रख लिया है प्राइवेट मुंशी।

तहसील लहरपुर के सब रजिस्ट्रार द्वारा रिश्वत मांगने की शिकायत पीड़ित किसान ने जिलाधिकारी/पुलिस अधीक्षक सीतापुर से की है।पीड़ित ने न्याय की गुहार के साथ दोषी पर कार्यवाही करने के साथ सरकार की भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की मुहिम को मजबूत कर अधिकारियों द्वारा आमजनमानस के शोषण की फेहरिस्त पर लगाम लगाने को उच्चाधिकारियों को लिखा है।

शिकायतकर्ता ब्रजेश कुमार पुत्र श्रीकृष्ण निवासी नौवनपुरवा थाना तंबौर तहसील लहरपुर सीतापुर ने शिकायत में बताया कि सबकुछ सही होने के बावजूद भी सब रजिस्ट्रार ने अपने प्राइवेट मुंशी अंकुर पुत्र मोती से मिलने को कहा,अंकुर द्वारा 8 हजार रुपए मांगे गए और बताया गया कि रजिस्ट्रार साहब इससे कम पर नहीं मानेंगे।रिश्वत के पैसे न दिए जाने पर करीब 4:45 बजे रजिस्ट्रार द्वारा कागज वापस कर दिए गए,जबकि इसी खेत के 1/2 हिस्से का बैनामा 3 अक्टूबर को हुआ था उसमें भी जो कमी शिकायतकर्ता की फ़ाइल में बताई गई वही था तो फिर बैनामा रजिस्ट्री क्यों रोकी गई।

शिकायतकर्ता ने साक्ष्य के लिए सीसीटीवी फुटेज चेक करवा पूरे प्रकरण की स्पष्ट जांच करवा कर दोषी सब रजिस्ट्रार व अंकुर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाने की गुहार जिले के उच्चाधिकारियों से लगाई है।

वैसे ये कोई पहला मामला नहीं है पूर्व में भी अपनी भ्रष्ट नीति के चलते अखबारों की सुर्खियां बन चुके सब रजिस्ट्रार लहरपुर के खिलाफ क्या होती है कार्यवाई और पीड़ित को कैसे मिलता है न्याय ये भी यक्ष प्रश्न ही है पर भाजपा सुशासन को पलीता लगाने वाले ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों पर यदि समय रहते न लगाया गया अंकुश तो सरकार से आमजन के उठ जाएगा विश्वास।