*शासन के निर्देशों के क्रम में अब मंगलवार की जगह शनिवार को आयोजित किया जा रहा है संपूर्ण समाधान दिवस
*कोविड-19 का पालन करते हुए सुनी गई फरियादियों की समस्या
* समय बद्ध तरीकों से शिकायत का निस्तारण कराए जाने के दिए गए निर्देश

निष्पक्ष जन अवलोकन।
रामानंद गुप्ता।
बाराबंकी। लॉक डाउन के बाद जिले में एक बार फिर से संपूर्ण समाधान दिवस यानी कि तहसील दिवस का आयोजन किया गया जिस के क्रम में जिला अधिकारी बाराबंकी के अध्यक्षता में तहसील नवाबगंज में फरियादियों की समस्याओं को सुना गया एवं उनके निस्तारण के निर्देश दिए गए।

जिलाधिकारी डाॅ0आदर्श सिंह की अध्यक्षता में माह जुलाई के तृतीय शनिवार को तहसील नवाबगंज में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस पर कोविड-19 के प्रोटोकाल के अनुरूप एक-एक फरियादियों की समस्याओं/शिकायतों को गम्भीरता पूर्वक सुनकर उसका निस्तारण मौके पर उपस्थित सम्बन्धित अधिकारियों से किये जाने का निर्देश दिया गया। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि सम्पूर्ण समाधान दिवस में आने वाली जन शिकायतों का निस्तारण प्राथमिकता के साथ समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण ढंग से सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी द्वारा भूमि विवाद/पुलिस आदि के प्रकरण पर सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि मौके पर निरीक्षण कर विवाद का निपटारा कराना सुनिश्चित करें। इसी प्रकार अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारी अपने-अपने विभाग के प्रार्थना पत्र का निस्तारण समयबद्ध ढंग से करना सुनिश्चत करें।

सम्पूर्ण समाधान दिवस पर तहसील नवाबगंज में डीएम के समक्ष कुल 58 शिकायती प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, राजस्व विभाग से सम्बन्धित 28 प्रार्थना पत्र, पुलिस विभाग से सम्बन्धित 15 प्रार्थना पत्र, विकास विभाग से सम्बन्धित 09 प्रार्थना पत्र, नगर पालिका/नगर पंचायत से सम्बन्धित 03 प्रार्थना पत्र तथा अन्य विभागों से सम्बन्धित 03 प्रार्थना पत्र प्रस्तुत हुए, जिसमें जिलाधिकारी द्वारा मौके पर 04 प्रार्थना पत्रों का सम्बन्धित अधिकारियों से निस्तारण कराया गया। शेष प्रार्थना पत्रों/शिकायतों को निस्तारण हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को प्रेषण करने का निर्देश डीएम द्वारा दिया गया।

तहसील नवाबगंज में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद, परियोजना निदेशक, उप जिलाधिकारी सदर, सीओ सिटी, जिला पंचायतीराज अधिकारी, जिला कृषि अधिकारी, डीसी मनरेगा, चकबन्दी अधिकारी बन्दोस्त, अधिशाषी अभियन्ता विद्युत, अधिशाषी अभियंता लो0निर्माण विभाग, अपर जिला सूचना अधिकारी सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी, तहसील अन्तर्गत सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारी उपस्थित रहे।