औरैया (दीपक कुमार पाण्डेय) माता-पिता की सच्ची सेवा से ही प्राप्त होते हैं ईश्वर।

कथा का रसपान कराते हुए_ आचार्य सतीश अवस्थी।

औरैया जिले की ककोर मुख्यालय के पास आयोजित लखनपुर गांव में 3 जुलाई से भागवत कथा में भागवताचार्य सतीश अवस्थी ने बताया माता-पिता की सच्ची सेवा से ही प्राप्त होते हैं भगवान क्योंकि इस कलयुग में लोग अपने माता पिता की सेवा नहीं करना चाहते हैं इसीलिए तो है दर दर भटकते हैं यह बात सतयुग कछला प्रसंग हिरण कश्यप एवं प्रह्लाद के बारे में व्यास जी बता रहे थे पिता और पुत्र में सच्चाई को लेकर आपसी भिड़ंत थी लेकिन प्रह्लाद ने कभी नहीं कहा कि हमारे पिताजी को मृत्युदंड दे दिया जाए यही एक सच्चे पुत्र एवं अच्छे भक्तों की पहचान होती है जो है हर समय का विशेष ध्यान रखें लेकिन सच्चे स्मरण एवं सच्ची निष्ठा से ही यीशु को प्राप्त किया जा सकता है अन्यथा इस कलयुग में मनुष्य का जीवन बेकारी माना जाता है आगे उन्होंने कहा इस युग में जिसकी रही भावना जैसी प्रभु मूरत देखी तिन तैसी