इटावा( विनय कश्यप)।

विद्यालय संस्कार व अनुशासन की एक ऐसी प्रयोगशाला है, जहाँ नौनिहालों के स्वर्णिम भविष्य की बौद्धिक व मानसिक नींव तैयार की जाती है। संस्था में अध्ययनरत प्रत्येक बच्चे को शिक्षा के साथ-साथ संस्कारवान बनाना इसका प्रथम उद्देश्य होता है।

वीओ:- इटावा जयोत्री एकेडमी के 5वें वार्षिकोत्सव ‘‘जय उत्सव‘‘ में बतौर मुख्य अतिथि पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) ओमवीर सिंह ने उपस्थितजनों से कहा कि राष्ट्र के सर्वोच्च शिखर को स्पर्श करने के लिए शिक्षा अतिमहत्वपूर्ण है। साथ ही उन्होंने मिशन शक्ति के तहत विद्यालय में जूडो-कराटे की कक्षायें संचालित करने तथा यातायात माह का जिक्र करते हुए यातायात नियमों का पालन व दुपहिया वाहन पर हैलमेट व चारपहिया वाहन पर सीट बेल्ट लगाकर सुरक्षित यात्रा करने की अपील की। इससे पहले मुख्य अतिथि श्री सिंह ने पुलिस क्षेत्राधिकारी चन्द्रपाल सिंह, विद्यालय संस्थापक/पूर्व चैयरमैन मनोज पोरवाल, निदेशक नितिन पोरवाल, प्रधानाचार्य योगेन्द्र मिश्रा के साथ माँ सरस्वती के चित्र के साथ स्व0 जयगोपाल-गायत्री देवी पोरवाल के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। तदुपरान्त 10वीं व 12वीं बोर्ड परीक्षा में उत्कृष्ट अंक प्राप्त करने वाले मेधावी कुश गुप्ता, लव, अभी, अंशिका गुप्ता, स्वेच्छा पाल, आदित्य गुप्ता आदि को अतिथिगणों ने प्रतीक चिन्ह्र व उपहार भेंटकर सम्मानित करते हुए उनका उत्साहवर्धन किया तथा विद्यालय परिवार द्वारा आगन्तुक अतिथियों का माल्यार्पण व प्रतीक चिन्ह्र भेंटकर जोरदार स्वागत सम्मान किया।

*संबोधन:- ओमवीर सिंह (एसपी ग्रामीण)*

*ब्यूरो चीफ-विनय कश्यप इटावा*
*मोबाइल नबर-9219881026, 9528842843,*