निष्पक्ष जन अवलोकन। नितेश मिश्रा। बाराबंकी। नेता प्रतिपक्ष उत्तर प्रदेश राम गोविन्द चौधरी ने कहा है कि जिस दिन उत्तर प्रदेश की बागडोर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के हाथ होगी। लोकतंत्र सेनानियों को मिलने वाली सम्मान राशि मध्य प्रदेश सरकार से अधिक कर दी जाएगी। मालूम हो कि इस समय मध्य प्रदेश में सम्मान राशि पच्चीस हजार रूपए प्रतिमाह है।
शुक्रवार को नगर के गांधी भवन में आयोजित लोकतंत्र सेनानी गौरव सम्मान 2021 में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित नेता प्रतिपक्ष रामगोबिन्द चौधरी ने कहा कि 1974 का जे.पी आन्दोलन महंगाई और भ्रष्टाचार के विरूद्ध शुरू हुआ था। जो आपातकाल की समाप्ति तक चला। उन्होंने कहा कि वर्तमान में महंगाई और भ्रष्टाचार चरम पर है। पूरे देश में अघोषित आपातकाल है। लोकतंत्र सेनानियों की जिम्मेदारी है कि वह महंगाई, भ्रष्टाचार और अघोषित आपातकाल के खिलाफ लड़ाई शुरू करें।
समारोह के दौरान लोकतंत्र सेनानी राजनाथ शर्मा, रामसेवक यादव, डाॅ राजाराम वर्मा, नरेश शर्मा, सत्य प्रकाश आर्य, मुस्तफा हुसैन और बेचई यादव को मुख्य अतिथि द्वारा लोकतंत्र सेनानी गौरव सम्मान से विभूषित किया गया।
बतौर विशिष्ट अतिथि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव, सांसद विशम्भर प्रसाद निषाद ने कहा कि भारत सरकार भी लोकतंत्र सेनानियों को पहचान व सम्मान राशि प्रदान करे। पूर्व मंत्री ओम प्रकाश सिंह ने कहा कि लोकतंत्र सेनानियों का कोई मूल्य नहीं है। लेकिन सपा आप सेनानियों को लोकतंत्र का जिन्दा दस्तावेज मानती है।
विशिष्ट अतिथि पूर्व मंत्री अरविन्द कुमार सिंह गोप ने कहा कि मुलायम सिंह यादव ने अपनी सरकार में लोकतंत्र सेनानियों को पहचान और सम्मान राशि दी। अखिलेश यादव ने उसे कानून का रूप दिया। 2022 में फिर अखिलेश यादव की सरकार बनेगी तो आपकी सम्मान राशि बिना कहे मध्य प्रदेश से अधिक होगी।
सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए वयोवृद्ध गांधीवादी चिन्तक राजनाथ शर्मा ने आपातकाल से जुड़े कई संस्मरण साझा किए। उन्होंने कहा कि लोहिया की सप्तक्रान्ति ही जे.पी की सम्पूर्ण क्रान्ति है। इसे अमली जामा पहनाना ही हम लोगों का दायित्व है इसके लिए हम लोगों को हर सम्भव प्रयास करना चाहिए।
लोकतंत्र सेनानी कल्याण समिति के संयोजक धीरेन्द्र नाथ श्रीवास्तव ने कहा कि अपनी सम्मान राशि का एक हिस्सा किसी दीन दुखी की मदद में जरूर खर्च करें।
सम्मेलन की अध्यक्षता लोकतंत्र सेनानी कल्याण समिति के अध्यक्ष रामसेवक यादव ने की। जयप्रकाश नारायण ट्रस्ट के अध्यक्ष अनिल त्रिपाठी, वरिष्ठ पत्रकार आमिर साबरी, लोकतंत्र सेनानी बेचई यादव, सत्यप्रकाश आर्य आदि ने भी समारोह को सम्बोधित किया।
बाराबंकी हिन्दी पत्रकार एसोसिएशन के अध्यक्ष पाटेश्वरी प्रसाद, उमेर किदवई, उमानाथ यादव, दिनेश निषाद, रज़ा हैदर, सरदार राजा सिंह, मृत्युंजय शर्मा, विनय कुमार सिंह, संजीव सोनकर ने एक विशाल माला बाराबंकी की तरफ से मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथियों को समर्पित किया। इस मौके पर धनंजय शर्मा, नरेश नरायण अवस्थी, शिवा शर्मा, हसमत अली गुड्डू, विजय कुमार सिंह, सत्यवान वर्मा, साकेत मौर्या, पी.के सिंह, रमाकान्त पाण्डेय सहित पूरे प्रदेश भर से कई लोग मौजूद रहे।