सिरौलीगौसपुर बाराबंकी।तंत्र- मंत्र और तांत्रिक के चक्कर में फंसे एक व्यक्ति ने अपनी नाबालिग बेटी को पीट पीट कर मार डाला। मारने के बाद गुपचुप तरीके से शव को दफना दिया। मारपीट से गंभीर रूप से घायल मृतक की मां ने होश में आने पर अपने मायके पक्ष के लोगों को बुलाकर घटना से अवगत कराया। इसके बाद घायल महिला अपनी मां व भाई के साथ बदोसराय कोतवाली पर पहुंचकर पति समेत तीन लोगों के विरुद्ध शिकायत दर्ज कराई है।दो दिन बाद इस घटना का खुलासा होने पर क्षेत्र में हड़कंप मचा हुआ है।मामला कोतवाली बदोसराय क्षेत्र के ग्राम खुर्दमऊ का है यहां के निवासी आलम पुत्र शाहिद काफी समय से तांत्रिक फिरोज बाबा के जाल में फंसा हुआ था। आलम ने अपने घर के पीछे एक मजार बनाकर बाबा के साथ मिलकर गड़ा धन पाने के लालच में तांत्रिक क्रियाएं कर रहा था।इसी बीच उसकी पत्नी रहनुमा बीमार हो गई । जिसका उपचार किसी डॉक्टर से कराने के बजाय बाबा से ही झाड़-फूंक कराने लगा । काफी समय तक झाड़-फूंक के बावजूद जब उसकी तबीयत ठीक नही हुई तो बीते मंगलवार को उसने अपनी मां के पास जाने की बात कही। बस इसी बात को लेकर आलम और तांत्रिक बाबा ने उसकी जमकर पिटाई कर दी । मां की पिटाई देख कर उसे बचाने दौड़ी उसकी नाबालिग पुत्री अनम को भी दोनों ने जमकर मारा पीटा जिससे उसकी मौत हो गई। मौत के बाद लड़की को गांव के ही एक कब्रिस्तान में गुप्त तरीके से दफना दिया गया। घटना के खुलासे के बाद गांव में दहशत का माहौल है । वहीं पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।बाबा गांव छोड कर फरार हो गया है । जबकि मृतका के पिता आलम और गांव के ही हनीफ को पुलिस हिरासत मे लेकर पूछताछ कर रही है । इस संबंध में पुलिस अधीक्षक का कहना है कि मृतक लडकी का शव कब्र से निकलवा कर पोस्ट मार्टम कराया जाएगा ।