सभी प्रधान अपने अपने गांव में वैक्सीनेशन के प्रति फैलाएं जागरूकता-डीएम

औरैया। जिलाधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों के साथ संवाद किया। उन्होंने गांव के विकास की रूपरेखा तैयार करने, सरकारी योजनाओें का प्रचार-प्रसार और कोरोना महामारी से मिलकर लड़ने की बात कही। जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना महामारी से बचाव हेतु वैक्सीनेशन की आवश्यकता है। इसलिए पूरे जनपद के विभिन्न केंद्रों पर 16 जून से वैक्सीनेशन अभियान चलाया जायेगा। जिलाधिकारी ने सभी नवनिर्वाचित प्रधानों से अपील करते हुए कहा कि वे अपने अपने गांव में वैक्सीनेशन को लेकर जागरूकता अभियान चलाएं। ग्रामीणों के बीच फैली अफवाहों को दूर करें। ग्रामीणों को बताया जाये कि वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। डब्ल्यूएचओ के अनुसार वैक्सीन की दोनों डोज लेने वालों की मृत्यु दर बहुत ही कम है। दोनों डोज लेने वाले लोगों की कोरोना से मृत्यु होने की सम्भावना बहुत ही कम हो जाती है। वहीं वैक्सीन नहीं लगवाने वाले व्यक्ति को कोरोना से बहुत खतरा है। इसके साथ जिलाधिकारी ने यह भी बताया जो महिलाएं गर्भवती हैं, और जिन महिलाओं के दो-तीन महीने के छोटे बच्चे हैं या कोई व्यक्ति गंभीर बीमारी से ग्रसित है ऐसे लोग टीका न लगवाएं।यदि कोई व्यक्ति अफवाह फैला रहा हो।उसके खिलाफ महामारी अधिनियम में एफआईआर दर्ज कराई जाएगी जिससे भविष्य में भी अफवाह न फैला सके।उन्होंने कहा स्वच्छ भारत मिशन की तर्ज पर टिगरिंग टीमों द्वारा जागरूकता फैलाई जाए। स्वास्थ्य विभाग की ओर से गांव गांव में कैंप लगाकर अधिक से अधिक लोगों को टीके लगाए जायेंगे। सभी नवनिर्वाचित प्रधान लेखपाल, आशामित्र, आंगनबाड़ी सदस्य, सचिव ,कोटेदार, रोजगार सेवक एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति से सहयोग लेकर कैंपों के माध्यम से वैक्सीनेशन अभियान को सफल बनायें। वैक्सीनेशन के पूर्व प्रधान कम से कम 50 ग्रामीणों का पंजीकरण कराएं। 45 वर्ष से ऊपर के छूटे व्यक्तियों को प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीन लगाई जाए। जिलाधिकारी ने कहा जो प्रधान एवं आशाएं वैक्सीनेशन में अच्छा कार्य करेंगी उन्हें प्रशस्ति पत्र भी दिया जाएगा अपर सीएमओ डॉ अशोक कुमार जिला पंचायत राज अधिकारी संदीप वर्मा व अन्य संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।