सिरौलीगौसपुर बाराबंकी।
राष्ट्रीय सेवा योजना, उत्तर प्रदेश और कॉलकम के तत्वावधान एवं यूनिसेफ-यूपी के सहयोग से आज “साइबर अपराध जागरूकता अभियान” (चलो एक साइबर सुरक्षित महिला बनें, मिशन शक्ति -2020 के अंतर्गत) के विषय पर वेबिनार का आयोजन किया। इसका मुख्य उद्देश्य महिलाओं को साइबर क्षेत्र में सुरक्षित एवं सशक्त बनाना हैं । वेबिनार में मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित बाराबंकी पुलिस अधीक्षक आई पी एस डॉ अरविंद चतुर्वेदी एवं मुख्य अतिथि के रूप में पधारे उत्तर प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा निदेशक डॉ अमित भारद्वाज और एन एस एस के राज्य संपर्क अधिकारी अंशुमालि शर्मा मौजूद रहे । निदेशक उच्च शिक्षा डॉ अमित भरद्वाज ने एन एस एस द्वारा ऑनलाइन साइबर अपराध जागरूकता अभियान का शुभारंभ किया और कहा कि पूरे प्रदेश में बालिकाओं को साइबर अपराधों के प्रति जागरूक किया जाएगा । इन सभी मुख्य जनों का स्वागत, अध्यक्षता कर रहे डॉ संजीव शर्मा जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में सहायक प्रोफेसर के पद पर कार्यरत ने सहज एवं सरल वाणी के माध्यम से किया । आपको बता दे की भारत में महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराधों में, साइबर क्राइम बहुत ही जगह्य है। ऐसे में इस वेबिनार की भूमिका और बढ़ जाती है जहां महिलाओं को ऐसा माहौल दिया जाए जहाँ वे अपने आप को सुरक्षित महसूस कर सके । “मिशन शक्ति” उत्तर प्रदेश सरकार की एक पहल है, जहाँ महिलाओं को सशक्त बनाया जाए और उन्हें इस काबिल बनाया जाए जहाँ वे सभी चुनौतीयो का डट कर सामना करे ।यह जानकारी नोडल अधिकारी डा हृषिकेश मिश्रा एवं डा अर्चना त्रिपाठी द्वारा दी गयी