बारबंकी(नितेश मिश्रा)। जनपद के तेजतर्रार पुलिस अधीक्षक बाराबंकी यमुना प्रसाद द्वारा जनपद में अपराध पर अंकुश लगाने हेतु अपराधियों के विरूद्ध चलाए जा रहे अभियान को आज बड़ी सफलता हाथ लगी है, जिसके क्रम में अवैध मार्फीन तस्करो के गिरोह का खुलासा करते हुए तीन शातिर अभियुक्तो को गिरफ्तार किया गया है।
अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी डॉ0अवधेश सिंह के निर्देशन, क्षेत्राधिकारी फतेहपुर योगेन्द्र कुमार के पर्यवेक्षण में सर्विलांस टीम व थाना मोहम्मदपुरखाला पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा सर्विलांस व मैनुअल इंटेलिजेंस के आधार पर तीन अभियुक्तों क्रमशः अवधेश कुमार पुत्र बिजेन्द्र दांगी निवासी चौथा थाना पथरगड्डा जनपद चतरा, झारखण्ड, सद्दाम उर्फ अफसार अहमद पुत्र नियाज अहमद निवासी पारा इब्राहिम थाना असन्द्रा जनपद बाराबंकी,कृष्ण कुमार मिश्र पुत्र स्व0 शिवनरेश निवासी 4/697 सेक्टर H जानकीपुरम थाना गुडम्बा जनपद लखनऊ को दादन चौराहा थाना मोहम्मदपुरखाला से गिरफ्तार किया गया, अभियुक्तगण के पास से 05.110 किलोग्राम मारफीन व तस्करी में प्रयुक्त स्विफ्ट डिजायर बरामद किया गया। अभियुक्तगण के विरूद्ध थाना मोहम्मदपुरखाला पर मु0अ0स0 199/21 धारा 8/21 एनडीपीएस एक्ट पंजीकृत किया गया।
अभियुक्त अवधेश मारफीन तस्करी का सरगना है और इसके द्वारा बड़े पैमाने पर क्रूड माल/फाइन मारफीन/अफीम की सप्लाई झारखंड से अन्य राज्यों उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब आदि में की जाती है। अवधेश के पिता एवं सद्दाम के मामा झारखण्ड में एनडीपीएस के मुकदमें में करीब 04 साल से जेल में बन्द हैं, जेल में मिलाई के दौरान अवधेश और सद्दाम की मुलाकात हुई थी तभी से दोनों इस अवैध कारोबार में संलिप्त है। अभियुक्त सद्दाम व कृष्ण कुमार झारखंड से मारफीन लाते है और बाराबंकी, लखनऊ,अयोध्या, गोण्डा आदि जनपदों में सप्लाई करते है। अभियुक्त सद्दाम व कृष्ण कुमार झारखंड से मारफीन लाने के लिए गये थे लेकिन पूरा पैसा ने दे पाने के कारण अवधेश से कहा कि तुम मेरे साथ चलो पैसे भी ले लेना और मारफीन की सप्लाई भी करवा देगें इस पर अवधेश इन लोगों के साथ पैसे लेने एवं मारफीन सप्लाई करने के लिए स्वयं यहां आया था और पुलिस टीम द्वारा गिरफ्तार कर वैधानिक कार्यवाही की गयी।