इटावा( विनय कश्यप)।
सादर आपको राष्ट्रीय पंचायती राज ग्राम प्रधान संगठन के सौजन्य से उ 0 प्र 0 के प्रत्येक जनपद से धरना आयोजित कर जिलाधिकारी महोदय को ज्ञापन देकर अवगत कराया जाता है कि ग्राम पंचायतों का कार्यकाल आगामी 25 दिसम्बर 2020 को समाप्त होने जा रही है ।इस अल्पावधि में में ग्राम प्रधानों को बहुत सा कार्य जनहित में करना आवश्यक है ।इसी बीच उ 0 प्र 0 शासन के आये दिन नये नये शासनादेश आने एवं उसका कड़ाई से जिलाधिकारी महोदय द्वारा पालन कराने हेतु दबाव बनाने से समस्त ग्राम पंचायतों के समक्ष समस्या उत्पन्न हो गयी है , जिसका शीध्र निस्तारण करना आवश्यक है ।जिसके सम्बन्ध में ज्ञापन के बिन्दु निम्न है : आगामी 25 दिसम्बर 2020 को ग्राम पंचायतों का कार्यकाल समाप्त होने के उपरान्त यदि समय से चुनाव कराना संभव न हो तो बढ़े हुये कार्यकाल का प्रशासक वर्तमान ग्राम प्रधानों को ही मनोनीत किया जाये ।यदि ए 0 डी 0 ओ 0 पंचायत को प्रशासक बनाया गया तो संगठन इसका हर स्तर पर विरोध करेगा ।ग्राम पंचायत / ग्राम प्रधान द्वारा पूर्व में कराये गये निर्माण कार्य जिसका भुगतान अवशेष है उसका 15 वें वित आयोग की धनराशि से भुगतान कराने के बाद ही सामुदायिक शौचालय , पंचायत भवन आदि बनाने पर दबाव बनाया जाये जिसका जिलाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया जावें 5 नवसृजित नगर पंचायत में शामिल ग्राम पंचायतों को 25 दिसम्बर 2020 तक ग्राम प्रधान के सभी अधिकार बहाल रखे जाय जहाँ पूर्ण रूप से नगर पंचायत अपना कार्य नहीं कर रही हो । छोटी ग्राम पंचायतो को सामुदायिक शौचालय अथवा पंचायत भवन निर्माण हेतु बाध्य न किया जाये । पंचायत सशक्तिकरण मुख्यमंत्री पुरस्कार विजेता ग्राम पंचायतो को शीध्र धनराशि उपलब्ध कराया जाये । निष्पादन अनुदान परफार्मेन्स ग्रान्ट वर्ष 2016-17 जिन ग्राम पंचायतों को दिया गया है , वहाँ माडल डी 0 पी 0 आर 0 निरूपण तथा जनपदों में उत्पन्न भ्रम को तत्काल दूर किया जाये ताकि उसका लाभ ग्राम पंचायतों को मिल सकें । अतः संगठन आपसे सादर अनुरोध करता है कि जिलाधिकारी महोदय के माध्यम से भेजे गये ज्ञापन पर तत्काल कार्यवाही करने हेतु सक्षम अधिकारियों को निर्देश देने की कृपा करें । संगठन सदा आपका आभारी रहेगा।