चंडीगढ़
हरियाणा सरकार जल्द सरकारी विभागों में खाली पड़े पदों को भरेगी। 10 नवंबर के बाद 15 हजार खाली पदों को भरने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। विभिन्न श्रेणी के इन पदों की भर्ती को हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग सिरे चढ़ाएगा। नौकरी का लंबे समय से इंतजार कर रहे बेरोजगार युवाओं के लिए यह बड़ी खुशखबरी है। आयोग ने सरकारी विभागों से खाली पदों का ब्योरा मांग लिया है।
कर्मचारी चयन आयोग के अध्यक्ष भारत भूषण भारती ने बताया, 15 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी। शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि व अन्य विभागों में खाली पद भरे जाएंगे। सब विभागों से रिक्त पदों का विवरण पहले ही मांग लिया गया है। अब भर्ती का विज्ञापन निकालकर पद भरने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। उन्होंने कहा, अभी तक हुई भर्तियों में पूरी पारदर्शिता बरती गई है। ऑनलाइन भर्ती प्रक्रिया शुरू होने से भ्रष्टाचार पर अंकुश लगा है। क्यूआर कोड एवं ओएमआर जैसी चीजें लागू होने से कोई उम्मीदवार किसी अन्य की जगह बैठकर पेपर नहीं दे सकता। इससे भर्ती प्रक्रिया स्पष्ट रहती है। कुछ दिन पहले ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आने वाले चार सालों में एक लाख अन्य पदों पर भर्तियां करने की घोषणा की है। जिसके लिए आयोग पूरी तरह से तैयार है।
सामाजिक आर्थिक आरक्षण व परीक्षा के सिलेबस निर्धारण के बारे में उन्होंने बताया, यह फैसला सरकार का होता है। सरकार ही इस बारे में निर्णय लेती है। उनका कार्य केवल परीक्षाओं को पारदर्शी तरीके से संपन्न करवाना है।
हरियाणा सरकार ने लंबित भर्ती परिणाम को भी जल्द घोषित करने का निर्णय लिया है। जिन भर्तियों में कोई कानूनी अड़चन नहीं है व सिर्फ परिणाम घोषित होना है, उनमें अब कोई देरी नहीं होगी। कर्मचारी चयन आयोग को सीएम मनोहर लाल ने निर्देश दिए हैं कि किसी भी भर्ती का परिणाम बेवजह न रोका जाए। जिन भर्तियों की परीक्षा हो चुकी है व पूरी प्रक्रिया पारदर्शी रही है, उन्हें भी रद्द नहीं किया जाएगा। सरकार युवाओं को भर्ती रद्द कर परेशानी में नहीं डालना चाहती।