औरैया (दीपक कुमार पाण्डेय) ट्रकों डंफरो के जंजाल में फंसा कस्बा कंचौसी।

कंचौसी कस्बे को रोजाना निकलने वाले सैकड़ो ट्रक व डंफरो ने पूरे कस्बे में आफत पैदा कर दी है।रोजाना घण्टो लगने वाले जाम के कारण लोगो का सड़को पर निकलना मुश्किल हो गया है।सड़को पर तेज रफ्तार से निकलने वाले ट्रकों पर अभी तक शासन प्रशासन द्वारा कोई पाबंदी नही लगाई गई ।तेज रफ्तार से निकलने वाले बड़े वाहनों ने सड़क किनारे रहने वाले वाशिंदों के लिए आफत बन गए है।तेज रफ्तार से ट्रकों का निकलना तेज आंधी का रूप ले रहा है।उड़ने वाली मिट्टी लोगो को बीमार बनाने का कार्य कर रही है।जिससे लोग एलर्जी के शिकार हो रहे है।घरो के अंदर उड़ती हुई धूल के कारण घरो में रहने वाले महिला पुरुषों को नाक मुंह मे मॉस्क रूमाल लगाना पड़ रहा है।तेज गति से निकलने वाले वाहन अक्सर दोनों तरफ जाम लगा देते है।जिससे साइकिल पैदल चलने वाले दुपहिया वाहन भी रोड से नही निकल पा रहे है।लेकिन आज तक प्रशासन द्वारा ना ही ट्रैफिक पुलिस लगाई गई और न ही जाम से निजात मिल सकी। कस्बावासियों ने बताया कि ट्रकों की रफ्तार इतनी अधिक होती है कि आंधी जैसा वातावरण बन जाता है।कुछ देर के लिए केवल उड़ने वाली धूल ही धूल वातावरण में दिखाई देती है।अगर इन निकलने वाले बड़े वाहनों पर कोई नियंत्रण नही किया गया तो हम सभी तमाम प्रकार की श्वसन संबधी बीमारियों से ग्रसित हो जाएंगे ।इन ट्रकों ने कंचौसी के सारे मार्गो पर अपना कब्जा जमा लिया है।कंचौसी लहरापुर मार्ग,कंचौसी किशोरा मार्ग झींझक कंचौसी जमौली मार्ग पर निकल कर बने समस्त मार्गो को बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया है।सरकार द्वारा करोड़ो रूपये खर्च कर बनाये गए रोडो को इन निकलने वाले बड़े वाहनों ने गड्डायुक्त कर रखा है।घण्टो इन्ही गड्डो में फंसकर ट्रक व डंफर जाम का कारण बन रहे है।