कानपुर ,(नारायण शुक्ला)
कोरोना को देखते हुए कानपुर आईआईटी की सीनेट की बैठक में तय हुआ की इस बार किसी भी छात्र को टर्मिनेट नहीं किया जाएगा साथ ही इस साल कोई भी छात्र फेल नहीं होगा
आईआईटी में पिछले साल मार्च में ऑनलाइन कक्षाएं संचालित की जा रही थी पिछले सत्र में दाखिला लेने वाले छात्र एक भी बार संस्थान आकर पढ़ नहीं पाए हैं इन्हीं सब को देखते हुए अफसरों ने तय किया की छात्रों को अकादमिक प्रेशर से दूर रखा जाए पिछली सेमेस्टर परीक्षा के अंकों के आधार पर छात्रों को नंबर दिए जाएंगे बता दे की अभी तक यदि कोई छात्र सेमेस्टर परीक्षाओं में लगातार फेल होता था तो संस्थान उस छात्र को निष्कासित कर देती थी इस बार ऐसा नहीं होगा निर्देशक प्रोफेसर अभय करंदीकर ने कहा की इस नकारात्मक माहौल में छात्रों को कुछ सकारात्मक रखने की कोशिश की गई है इसके अलावा अंडर ग्रेजुएट छात्रों को लैब फीस में छूट मिलेगी