इटावा( विनय कश्यप)। सरकार के कड़े निर्देशों के बाद भी जिला प्रशासन द्वारा सरकारी भूमि पर दबंगों के कब्जे को हटाया तो नहीं जाता। बल्कि ग्रामीणों व किसानों की शिकायतों पर गलत रिपोर्ट लगाकर कार्यवाही करने की बात कह कर मामले को रफा-दफा करने में हमारे अधिकारियों का कोई जबाब नही।
ऐसा ही एक मामला ग्राम बुंदेला मौजा चमन पुर रुद्रपुर तहसील ताखा थाना ऊसराहार से सामने आया है। ग्रामीणों द्वारा जिलाधिकारी श्रुति सिंह को शिकायत दिए जाने के दौरान संजीव कुमार ने बताया कि ग्राम बुंदेला में ग्राम पंचायत की जगह पर कुछ दबंगों ने काफी वक्त पूर्व से कब्जा कर रखा है। जिसके चलते ग्रामीणों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जिसकी शिकायत पर सन 2011 में जिला अधिकारी ने एसडीएम महोदय को आदेशित किया था कि ग्राम समाज की जगह को कब्जा मुक्त करवाकर सुरक्षित किया जाए । परंतु लेखपाल कानूनगो और एसडीएम महोदय ने कब्जा तो नहीं हटवाया बल्कि शिकायत पर कब्जा हटाकर धारा 122 की कार्यवाही कर दोषियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की बात लिखकर रिपोर्ट शासन को भेज दी। तभी से ग्रामीणों द्वारा बराबर शासन से लिखित शिकायत की जा रही है। पर जमीनी हकीकत तो यह है की आदेश के 9 साल बाद भी न किसी दबंग का वहां से कब्जा हटा पाए न किसी किसान की शिकायत सुनी अब तो हालात यह हैं की ग्राम समाज की जमीन पर दबंग अपना पक्का निर्माण भी करा रहे हैं। प्रशासन मौन बैठा है। आखिर मजदूर किसान अपनी बात को लेकर कहां जाएं।