चंडीगढ़
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की रैली से लौट रहे यूथ कांग्रेसियों के दो गुट एनआईएस चौक के पास आपस में भिड़ गए। इस दौरान हुई फायरिंग में दो युवक घायल हो गए। उन्हें सरकारी राजिंदरा अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। एसपी सिटी वरुण शर्मा ने बताया, मामले में हरविंदर जोई, अमर, शिबू, गोपी, गुरी और सोनू पेंटर समेत कुछ अज्ञात पर केस दर्ज किया गया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार, करीब पांच माह पहले पटियाला में यूथ कांग्रेसी नेता हरविंदर सिंह जोई के समर्थक शमशेर सिंह की हत्या हो गई थी। इस मामले में यूथ कांग्रेसी एसके खरोड़ समेत उसके गुट के 15 लोग नामजद किए गए थे। तभी से जोई और खरोड़ गुट में रंजिश चल रही थी। रविवार दोपहर सीएम की रैली खत्म होने के बाद एनआईएस चौक पर दोनों गुट भिड़ गए। इसमें दो युवक चरणजीत सिंह और रेहान गोली लगने से जख्मी हो गए। चरणजीत को दो गोलियां लगीं जबकि रेहान की पीठ पर एक गोली लगी है। आफिसर कालोनी पुलिस चौकी इंचार्ज गुरपिंदर सिंह ने बताया, दोनों घायलों को राजिंदरा अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। घायल रेहान का कहना है, हरविंदर सिंह जोई और उसके साथियों ने फायरिंग की थी जिससे वह घायल हो गया। वहीं, जोई का आरोप है, दूसरे गुट ने उन पर गोलियां चलाईं। वहीं, सीएम की रैली के मद्देनजर जिले में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात थी। इसके बावजूद फायरिंग होना पुलिस प्रशासन पर सवालिया निशान लगाता है।