गुप्त गोदामों में लाखों का अवैध पान मसाला किया डम्प।

कोरोना काल में आपदा में अवसर बनाने में जुटे बड़े दुकानदार।

औरैया (दीपक कुमार पाण्डेय)। कोरोना संक्रमण में तेजी आते ही अफवाहों का दौर शुरू हो गया है।कस्बे में पान मसालों के दामो मे शुक्रवार शाम से अचानक दाम बढ़ गए हैं जिसको लेकर गांव क्षेत्रों में खोखा पेटी रखे छोटे दुकानदार पान मसाला खरीदने के लिए बाजार में भटकते रहे।सूत्रों की माने तो पान मसाला थोक दुकानदारों ने कस्बे के तमाम मकानों दुकानों में लाखों का अवैध पान मसाला डम्प कर लिया है जिससे बाजार में भाव मे उछाल आया गया।ग्रामीण क्षेत्रों के छोटे दुकानदार व कंचौसी कस्बे के छोटे दुकान दारो ने बताया कि कंचौसी कस्बे में अफवाह फैला दी गई है कि कानपुर नगर में लाकडाउन लगने से गुटखा फैक्ट्री बन्द हो गयी हैं।छोटे दुकानदार पान मसाला खरीदने कंचौसी आये जहां पान मसाले के थोक व्यापारियों ने दामो में बहुत बढोत्तरी कर दी है।बताया कि राजश्री,विमल,करमचंद,केसर,कमलापसंद आदि गुटखा में प्रति पैकेट पच्चीस से पचास रुपये ज्यादा देने पर ही माल मिल रहा है अचानक दाम बढ़ने की बजह पूछने पर माल है नही कहकर कस्बे के थोक दुकानदार मना कर रहे हैं।सूत्रों की माने तो पान मसाला में अचानक दाम बढ़ने की बजह कस्बे के बड़े मुनाफाखोरों द्वारा अवैध रूप में लाखों का पान मसाला कस्बे के बड़े दुकानदारों ने मकानों और दुकानों में डम्प कर लिया है जिसकी बजह से बाजार में दामों में तेजी आ गयी है यही हाल बीड़ी और सिगरेट का भी है जिसमे प्रति पैकेट बीस से पचास रुपये तक दाम बढ़ गए हैं।