औरैया (दीपक कुमार पाण्डेय) कस्बे में नही हुआ सेनेटाइजेसन। कोरोना संक्रमण के कारण जहां पूरे प्रदेश में हा हा कार मचा हुआ है ।वहीं सरकार द्वारा किया गया सेनेटाइजेसन का वादा झूठा साबित हो रहा है।जैसा कि सरकार दावा किया था कि रविवार को लॉक डॉऊन रखने के बाद गावों नगरों ब समस्त शहरी क्षेत्रों को सेनेटाइज किया जाएगा लेकिन ऐसा कुछ भी नजर नहीं आया।सहार ब्लॉक के अंतर्गत आने वाले कई गांव जिनमे गन्दगी का अंबार लगा हुआ है वहां कहीं भी सेनेटाइजेशन का कार्य नहीं किया गया। पूर्वा महिपाल,घासा का पूर्वा ,सूखमपुर,कंचौसी बाजार,ढिकियापुर,लछियामऊ, नौगमां,आदि दर्जनों जैसे गांव है जहां वर्षो से नालियों की सफाई नहीं को गई।जगह जगह कूड़े के ढेर लगे है अधिकारी गण इसका निस्तारण कागजों में ही कर देते है।इस गंदगी के कारण कई गांवों में जुकाम ,खासी तथा बुखार के मरीज डॉक्टरों के पास कतार लगाए नजर आते है लेकिन जब गावों शहरो में साफ सफाई और सेनेटाइजेशन का कार्य नहीं होगा तो कोरोना संक्रमण से कैसे निजात मिल सकती है। कस्बे के लोगो का कहना है की साफ सफाई ब सेनेटाइजैशन का कार्य शीघ्र न किया गया तो कोरोना जैसी घातक बीमारी विराट रूप धारण कर सकती जिसे सभालना मुश्किल पड़ेगा।