कानपुर देहात (अंकित तिवारी )

कानपुर देहात में बीते बरसों से औद्योगिक क्षेत्रों रनिया के खानचंद्रपुर गांव में दूषित पानी पीने को लोग मजबूर थे

क्रोमियम सल्फेट जो हानिकारक केमिकल को फैक्ट्रियों के संचालकों ने क्रोमियम सल्फेट को एक जगह स्टोर कर दिया था बरसात में पानी के रिसाव के चलते,अगल बगल के गांव में नलों का पानी दूषित हो गया था जिसको लोग पीने से खसरा चेचक जैसी बीमारियों को झेल रहे थे,
लेकिन एनजीटी विभाग ने ढाई सौ करोड़ का क्रोमियम सल्फेट को लेकर जुर्माना भी उद्यमियों के खिलाफ किया था
,और हिदायत दी थी की खानचंदपुर गांव को स्वच्छ पानी दिया जाए जिससे लोगो को बीमारियों से बचाया जा सके

एनजीटी के आदेशा अनुसार कानपुर देहात जल निगम विभाग ने गांव में एक करोड़ 60 लाख रुपए की लागत से लगभग 500 सौ 50 परिवार को घर-घर पानी भिजवाने का काम किया है
और गांव के लोग स्वच्छ पानी पीने से खुशहाल हैं और बीमारीयो से भी दूर हैं,, एम के सिंह, अधिशासी अभियंता, जल निगम कानपुर देहात