बाराबंकी(रामानंद गुप्ता)। भिटरिया बाईपास स्थित भगवानपुर चौराहा पर क्रांतिकारी मानवाधिकार यूथ ब्रिगेड कार्यालय पर संगठन के सदस्यों द्वारा कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए डॉ0 भीमराव अंबेडकर बाबा साहब की जयंती मनाई गई। 14 अप्रैल को विभिन्न राजनैतिक दलों व संगठनों द्वारा जनपद के विभिन्न स्थानों पर संविधान के निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की जयंती मनाई गई। इसी क्रम में क्रांतिकारी मानवाधिकार यूथ ब्रिगेड संगठन के अध्यक्ष अनिल यादव द्वारा डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्पमाला अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई।

इस दौरान अनिल यादव ने कहा आपसी भाईचारा व सौहार्द की भावना रखकर संगठन के प्रति सच्ची ईमानदारी के साथ काम करना ही बाबा साहब के लिए एक सच्ची श्रद्धांजलि होगी। संगठन के प्रदेश अध्यक्ष मोहम्मद इमरान ने बाबा साहब को पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि दी और कहा कि देश में छुआछूत , जाति – पांत, द्वेष भावना आदि के खिलाफ बाबा साहब ने जो लड़ाई लड़ी वह बहुत ही सराहनीय रही है और हम सबको बाबा साहब के आदर्शों पर चलने की आवश्यकता है।

संगठन के जिला अध्यक्ष आशीष सिंह ने समाज सुधारक डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की और वहां पर उपस्थित संगठन के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा देश के लिए कानून बनाने वाले, स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून और न्याय मंत्री के रूप में बाबा साहब ने जो सेवाएं देश के लिए दी है वह सदैव स्मरणीय रहेगा। आज बाबा साहब की जयंती पर क्रांतिकारी मानवाधिकार यूथ ब्रिगेड संकल्पित होकर उनके सिद्धांतों पर चलते हुए जनकल्याण के उद्देश्य से काम करेगा।

इस अवसर पर जिला मीडिया प्रभारी श्रेयांश सिंह सूरज ने अपने संबोधन में कहा कि भारत की स्वतंत्रता में बाबा साहब का अहम योगदान रहा है। भारत का चौथा स्तंभ कहा जाने वाला मीडिया/पत्रकार के रूप में भी डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने अछूतों के अधिकारों की आवाज उठाई। क्रांतिकारी मानवाधिकार संगठन डॉक्टर अंबेडकर के आदर्शों पर चलते हुए मानव के अधिकारों की रक्षा करते हुए समाज में दबे – कुचले ,पीड़ित-शोषित व्यक्ति को उनके हक को दिलाना ही संगठन की प्राथमिकता रहेगी।

इस अवसर पर कार्यालय प्रभारी वीरेन्द्र कुमार शर्मा, श्री चन्द्र वर्मा, जिला सचिव अयोध्या श्याम करन शर्मा, विवेक सिंह सूर्यवंशी, पत्रकार मान बहादुर सिंह, प्रांशु वर्मा, लवकुश यादव संतोष यादव विकास यादव अजय कुमार पाल ,शिव कुमार पाल, मिथिलेश कुमारी, श्रीमती व मोहम्मद अरमान आदि संगठन के कार्यकर्ता मौजूद रहे।