औरैया (दीपक कुमार पाण्डेय) अज्ञात कारणों से गेहूं की फसल में लगी आग लगभग 60 बीघा फसल जलकर राख।

आग बुझने के बाद पहुची फायर ब्रिगेड की गाड़ी

दिबियापुर थाना क्षेत्र के ग्राम कंचौसी गांव में रविवार को लगी आग से 60 बीघे से ऊपर गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। आग ने जहां गेहूं की फसल के साथ किसानों के अरमान भी खाक में बदल गए। खेतों में फसल पूरी तर तैयार होकर लहलहा रही थी और आज-कल में ही कटने वाली थी।कंचौसी गांव के पूर्वी भाग में अज्ञात कारणों से दोपहर को भीषण आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और एक के बाद एक गेहूं के खेत को चपेट में ले लिया। आसपास गांवों के लोगों की भीड़ मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाने का प्रयास करने लगी। सूचना अग्निशमन विभाग को दी गई, लेकिन फायर बिग्रेड की गाड़ी घटना स्थल पर आग बुझने के बाद पहुँची ।ग्रामीणों ने किसी तरह आग पर काबू पाया। परंतु तब तक प्रमोद चौबे, उमेश चौबे , मुल्लू चौबे पुत्र मोतीलाल तीन सगे भाइयों की 52 बीघा सहित सतीश शुक्ला की 6 बीघा व रामावतार डेढ़ बीघा से ऊपर की फसल राख में तब्दील हो चुकी थी। तैयार हो चुकी फसल को क्षण भर में आग की भेंट चढ़ जाने की घटना देख पीड़ित बेबसी के आंसू बहाने के सिवा कुछ नहीं कर पा रहे थे।घटना की जानकारी मिलते ही 112 पुलिस व कंचौसी चौकी इंचार्ज योगेंद्र सिंह अपने हमराही ब्रजमोहन और आदेश के साथ मौके पर पहुंचे। कंचौसी गांव लेखपाल शैलेन्द्र कुमार ने बताया जली फ़सल का आकलन किया गया तो बताया जली हुई फसल में 250_270 बोरा गेहूँ की पैदावार होती हैं। जल्द ही मुवाजा दिलवाया जाएगा।