बाराबंकी(नितेश मिश्रा)। जनपद में चिन्हित 24 धार्मिक स्थलो में विकास खंड बंकी अंतर्गत मंजीठा श्री नाग देवता मंदिर का भी स्थान है। मान्यता है कि यह स्थान महात्मा गौतम बुद्ध द्वारा धर्म का प्रचार करने के रास्ते मंजीठा आने के समय से प्रसिद्ध हुआ। यहां प्रति वर्ष अषाढ़ की पूर्णिमा से नाग पंचमी तक विशाल मेला लगता है। इसके निकट पौराणिक पुरनिया विशाल सरोवर है जिसमे श्रद्धालू स्नान कर मंदिर में पूजन अर्चन करने जाते है। सरोवर मंदिर से सटा हुआ है जिसके एक ओर सीढ़ियां बनी है। इसके शेष तीनो ओर खुला होने से जानवर सरोवर में चले आते है जिससे इसका पानी दिनोदिन प्रदूषित व संक्रमित होता जा रहा है।

मेलार्थियों के स्नान आदि जरूरत पूर्ति हेतु सरोवर के शेष तीनो दिशाओ में सीढी निर्माण कराए जाने की अत्यंत जरूरत है जिससे मेलार्थी सुगमता से स्नान कर सकेगे और जानवर भी पानी को प्रदूषित व संक्रमित नही कर सकेंगे।

भारतीय किसान यूनियन भानू के युवा जिला अध्यक्ष रोहित द्विवेदी बताते हुए गौरवान्वित है कि सरोवर के आस पास तथा हैदरगढ़ रोड से मन्दिर तक पहुंचने वाले दोनों मार्गो पर हमारा संगठन गांव में महिला सशक्तिकरण हेतु कार्य कर रही अनुभवी स्वैच्छिक संगठन जागो-री-जागो ( सम्बद्ध उ०प्र०ग्रामीण महिला एवं बाल कल्याण सोसायटी पंजीकृत 1988) के सम्मिलित प्रयास से सघन वृक्षारोपन कर हरा भरा वातावरण बनाकर सुंदरीकरण कराए जाने
में इस बरसात में जुटने की कार्य योजना बनाई गई है।

रोहित द्विवेदी ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर जनहिताय के क्रम में सरोवर के तीनों तरफ सीढियां बनाने तथा वृक्षारोपण करवाये जाने में जिम्मेदार विभागीय अधिकारी को सहयोग हेतु आदेश करने का अनुरोध किया है।