औरैया (दीपक कुमार पाण्डेय)आग लगने से लाखों रुपए का सामान जलकर हुआ राख अब कैसे होंगे लाडली बेटी के हाथ पीले माह दिसंबर में होनी है शादी जानकारी देते परिजन एवं मौजूद लोग तथा जला पड़ा सामान विकासखंड थाना एरवाकटरा क्षेत्र के ग्राम भैदपुर में  खाना बनाते समय अचानक आग लग जाने से गृहस्थी का सामान रुपए- पैसे एवं जेवरात जलकर राख हो गये। ग्रामीणों ने अथक परिश्रम कर आग पर काबू पाया। गृह स्वामी की बेटी की शादी माह दिसंबर में होनी है। सेवानिवृत्त इंस्पेक्टर ने पीड़ित परिवार को इमदाद दी है। वही मौके पर पहुंची क्षेत्रीय लेखपाल ने आग लगने से हुए नुकसान का जायजा लिया। ग्रामीणों ने मुआवजा दिलाये जाने के लिए प्रशासन से मांग की है। क्षेत्र के ग्राम भैदपुर निवासी मंटू पुत्र जयवीर सिंह यादव जोकि ने वेहद गरीबी में अपना जीवन यापन करता है। वह एक दीवाल पर छप्पर आदि रखकर परिवार समेत गुजर-बसर करता है। शुक्रवार की शाम करीब 7 बजे उसकी पत्नी घर पर खाना बना रही थी। उसी समय चूल्हे की चिंगारी से छप्पर में आग लग गई। जिससे आग की लपटें उठने लगी। देखते ही देखते आग ने पूरी गृहस्थी को अपनी चपेट में ले लिया। गृह स्वामी के चिल्लाने पर ग्रामीण दौड़ पड़े और उन्होंने अथक परिश्रम कर आग पर काबू पाया। लेकिन तब तक घर के अंदर रखें रुपए- पैसे , जेवरात के अलावा करीब 20 कुंतल गेहूं , सरसों व चना के अलावा कपड़े एवं भूषा आदि जलकर राख हो गये। इसके अलावा बेटी सपना जिसकी शादी आगामी 12 दिसंबर 2020 को होनी है। उसके दान- दहेज का सामान भी जलकर स्वाहा हो गया। गृह स्वामी मंटू यादव ने जानकारी देते हुए बताया की आग लगने से उसका लगभग 6 लाख रुपए का नुकसान हो गया है। इस आपदा को लेकर गांँव के ही सेवानिवृत्त इंस्पेक्टर श्रीप्रकाश यादव ने पीड़ित को तत्काल प्रभाव से 10 हजार रुपए की इमदाद दी है। आग लगने की जानकारी होने पर क्षेत्रीय लेखपाल सुशील कुमार पीड़ित के घर पहुंचे , और आग लगने से हुए नुकसान का जायजा लिया। उपरोक्त इंस्पेक्टर के अलावा गांँव के ही ऋषि यादव व प्रधान गजेंद्र सिंह ने पीड़ित परिवार को इस संकट की घड़ी में आर्थिक सहायता प्रदान किये जाने के लिए जिला प्रशासन से मांग की है। बताया जाता है कि पीड़ित गृह स्वामी के तीन संतानों में बेटी सबसे बड़ी है तथा 2 पुत्र छोटे हैं।