औरैया (दीपक कुमार पाण्डेय) कंचौसी कस्बे के जागेश्वर सांई धाम मन्दिर पर चल रही श्रीमद भागवत कथा व राम कथा मे पाचवे दिन आगरा से पधारी रेखा रामारणी ने अपने मुखार विन्द से मायापुरूसोत्तम श्री राम का वन गमन कथा का वर्णन किया केवट की भाक्ति को बडे ही अच्छे ढ़ंग से स्रोताओ को सुनाया उन्होंने समाज के लोगो को आगाह किया कि श्री राम ने अपने जीवन उतारने की शिक्षा दी क्था के माध्यम से युवा वर्ग को आगाह किया कि भागवान राम ने अपने माता पिता व गुरू जनो की सेवा की आज की युवा पीढ़ी इस सबसे दूर होती जा रही है।व्यक्ति को मनुष्य जीवन मिला है तो उसको सतकर्मो मे लगाना चाहिये।रामचरित मानष का पाठ हर घर मे होना चाहिये ।कथा के परीक्षत गिरजा शंकर त्रिवेदी,कार्यक्रम संयोजक इन्द्रपाल यादव ने बताया कि कथा सात अप्रैल को विराम होकर आठ को विशाल भण्डारे का आयोजन होगा।मुख्य रूप से चाद्रिका तिवारी,रमेश तिवारी,कृष्ण गोपाल गुप्ता,किशोरी राजपूत,लाल सिह,शिवबालक,बीरबल पाल,गोलू शुक्ला,भरत तिवारी,आदि लोगो का सराहनीय सहयोग है।