सिरौली गौसपुर, बाराबंकी।
बेसिक शिक्षा विभाग के अंतर्गत प्राथमिक विद्यालय किंतूर प्रथम में शिक्षा चौपाल का आयोजन किया गया। शिक्षा चौपाल में अभिभावकों को बच्चों के साथ समय बिताने, शैक्षणिक गृह कार्य पूरा कराने और लिखित कार्य के माध्यम से अभ्यास कराने के लिए प्रेरित किया गया। उन्हें दीक्षा एप डाउनलोड करने और पाठ्यपुस्तकों में दिए गए क्यूआर कोड को मोबाइल फोन से स्कैन कर बच्चों को पढ़ने के लिए प्रेरित करने के लिए कहा गया । बच्चों की रियल टाइम मॉनिटरिंग के लिए स्कूलों में चस्पा की गई प्रेरणा तालिका और प्रेरणा सूची के बारे में उन्हें जानकारी दी जाएगी। स्कूलों में उपलब्ध कराए गए गणित किट और प्रिंटरिच शिक्षण सामग्री भी प्रदर्शित की गई।
शिक्षा चौपाल के आयोजन में शिक्षक संकुल की विशेष भूमिका रही। कोरोना से पढ़ाई को हुए नुकसान की भरपाई के लिए सर्व शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना कार्यालय ने मार्च से स्कूल खुलने पर उनमें 100 दिवसीय प्रेरणा उत्सव अभियान चलाने की रूपरेखा तैयार की है। इसमें बच्चों की उपचारात्मक शिक्षा (रेमेडियल टीचिंग) पर फोकस रहा। इस अवसर पर राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ब्लॉक इकाई सिरौली गौसपुर अध्यक्ष सौरभ दीक्षित, आशुतोष मिश्रा, मो0 अजीज,अपर्णा श्रीवास्तव, विवेक कुमार सिंह, अनुभव, विमला देवी, आफरीन आदि शिक्षक एवं अभिभावक उपस्थित रहे।