बाराबंकी(नितेश मिश्रा)। मुंशी रघुनंदन प्रसाद सरदार पटेल महिला डिग्री कॉलेज में आज सप्त दिवसीय विशेष शिविर का आज समापन हुआ।इन सप्त दिवसीय शिविर में राष्ट्रीय सेवा योजना की स्वयं सेविकाओं ने चयनित ग्राम छेदानगर में प्रथम दिन ही गांव पहुंच कर स्वयंसेविकाओं ने एक-एक घर लेकर उस घर में वृक्षारोपण किया और प्रतिदिन उस घर की साफ-सफाई के लिए विशेष रुप से जागरूक किया तथा किन कारणों से बीमारियां फैलती है,कैसे हम खुद को सुरक्षित रख सकते है। सरकार की विभिन्न योजनाओं से अपने जीवन को कैसे जोड़ें,किसानो के लिए विभिन्न योजनाएं,पढ़े बेटियां बड़े बेटियां,गांव की महिलाओं को साक्षर,इन समस्त जानकारी को प्रत्येक घर में स्वयं सेविकाओं ने सप्त दिवसीय विशेष शिविर के अंर्तगत पूरे गांव को जागरूक बनाया।स्वयं सेविकाओं ने एक-एक घर की जिम्मेदारी के साथ प्रातः काल में पूरे गांव की साफ-सफाई जिसमें नालियां, सड़क,गोबर ढेर आदि की प्रतिदिन साफ-सफाई की और लोगों को भी इसके लिए जागरुक किया।

आज सप्त दिवसीय विशेष शिविर समापन के दिन भी गांव के प्रत्येक घर के बाहर रंगोली बनाई घर-घर को जागरूक किया।आज इस समापन बेला पर पधारे मुख्य अतिथि प्रबंधन करिणी समिति के अध्यक्ष, पूर्व राज्यमंत्री श्री संग्राम सिंह, समारोह अध्यक्षता कर रहे श्री उमाशंकर वर्मा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ० सुधीर वर्मा ने स्वयं सेविकाओं द्वारा गांव में किये गए कार्यों का निरीक्षण किया और स्वयं सेविकाओं के कार्य की सराहना की।गांव कार्य के बाद स्वयं सेविकाओं ने महाविद्यालय में रंगोली बनाई, शिल्प कौशल प्रदर्शन किया जिसमें अधिकतर बच्चों ने वेस्ट समान से सुंदर वस्तुओं का निर्माण किया,जिससे पुरानी खराब चीजों का कैसे प्रयोग करें हम सबको भी यह भी सीख मिली।पूर्व राज्य मंत्री मुख्यातिथि के रुप में पधारे श्री संग्राम सिंह ने स्वयं सेविकाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारे विघालय की समस्त स्वयंसेविकाओं ने बहुत सुंदर रंगोली बनाई और गांव के प्रत्येक घर को सुज्जित किया। उमाशंकर वर्मा (मुन्नू भैया)ने स्वयं सेविकाओं की तारीफ करते हुए कहा कि स्वयं सेविकाओं ने जो धान की भूसी,आम,नीम की पत्तियों से हर द्वार को रंगोली से सजाया।वह बहुत उत्कृष्ट रही।

ए.आर.टी.ओ. पंकज सिंह ने स्वयं सेविकाओं को कैरियर के लिए जागरुक किया साथ ही राष्ट्रीय सेवा योजना के बारे में बताते हुए कहा कि इसके माध्यम से ग्रामीण परिवेश में एक क्रांतिकारी बदलाव आता है स्वयं सेवी ये बेटियां किसी मायने में बेटों से कम नहीं‌। यहीं भविष्य की सुनीता विलियम्स यहीं कल्पना चावला है।
पटेल महिला डिग्री कॉलेज की प्राचार्या डॉ०ऊषा चौधरी ने स्वयं सेविकाओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि समस्त स्वयं सेविकाओं ने पूरे अनुशासन से सप्त दिवसीय विशेष शिविर में पूरी कर्मणता से अपने दायित्व का निर्वहन किया ग्रामीणों को जागरूक करने के साथ ही स्वयं भी बहुत कुछ सीखा।

इस अवसर पर प्रबंधन करिणी समिति के अन्य सदस्य, कॉलेज की समस्त प्राध्यापिकाओं ने उपस्थित होकर स्वयं सेविकाओं को प्रोत्साहित किया।इसी के साथ सभी स्वयं सेविकाओं को पुरस्कृत किया गया साथ इस कार्यक्रम को सफल बनाने में लगी कार्यक्रमाधिकारी डॉ०सरिता सिंह,डॉ०अमिता सिंह, समाचार व्यवस्थापक कविता द्विवेदी को भी पुरस्कृत किया गया।।इस कार्यक्रम का संचालन कार्यक्रमाधिकारी डॉक्टर अमिता सिंह ने और धन्यवाद ज्ञापन कार्यक्रमाधिकारी डॉ०सरिता सिंह ने साथ किया।