बाराबंकी (नितेश मिश्रा)।आज अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस है और इसके साथ ही उत्तर प्रदेश भर में मिशन शक्ति का कार्यक्रम काफी वृहद स्तर पर चलाया जा रहा है और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा भी इसकी लगातार समीक्षा की जा रही है और संबंधित अधिकारियों को आदेश निर्देश दिए जा रहे हैं।अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर बाराबंकी में आयोजित मिशन शक्ति के कार्यक्रम में राजस्व विभाग द्वारा वरासत खतौनियो का भी वितरण भी किया गया, दरअसल वर्तमान समय में वरासत अभियान चलाया जा रहा है जिसमें मृतक व्यक्तियों की वरासत कर उनकी खतौनी उपलब्ध करायी जा रही है, जिसके अंतर्गत बाराबंकी के जिला अधिकारी डॉक्टर आदर्श सिंह द्वारा अपने मातहतों को यह स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि वरासत अभियान में महिलाओं को प्राथमिकता देते हुए उनसे संबंधित लंबित वरासत प्रकरणों का तत्काल निस्तारण कर उन्हें खतौनी उपलब्ध करा दी जाए।जिलाधिकारी के आदेश के क्रम में राजस्व विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने वरासत अभियान के तहत ऐसे प्रकरणों को चिन्हित कर वरासत दर्ज करने की कार्यवाही प्रारंभ कर दी, जिस के क्रम में आज जनपद बाराबंकी में मिशन शक्ति कार्यक्रम के अंतर्गत तहसील नवाबगंज की चार महिलाओं को वरासत खतौनी उपलब्ध कराई गई।ग्राम पीड़ परगना देवा व तहसील नवाबगंज की निवासिनी सावित्री देवी के चेहरे पर आज उस समय मुस्कान आई जब बाराबंकी में आयोजित मिशन शक्ति के कार्यक्रम के अंतर्गत जिले के प्रभारी मंत्री दारा सिंह चौहान एवं तमाम आला अधिकारियों के बीच उन्हें वरासत खतौनी सौंपी गई, द इंडियन ओपिनियन से बात करते हुए सावित्री देवी ने बताया कि कुछ दिनों पूर्व उनके पति की मृत्यु हो गई थी और वह वृद्ध है इसलिए ज्यादा दौड़ भाग नहीं कर सकती हैं लेकिन इसके बावजूद जिले के अधिकारियों के बदौलत उन्हें खतौनी मिल गई है जिसके लिए वह अधिकारियों को धन्यवाद ज्ञापित करती हैं।अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर आयोजित मिशन शक्ति के इस कार्यक्रम में सावित्री के साथ-साथ तहसील नवाबगंज की आशा देवी, चंद्रावती, कमलादेवी आदि को वरासत खतौनी सौंपी गयी। कार्यक्रम के दौरान राजस्व विभाग से उप जिलाधिकारी अभय पांडे, तहसीलदार तपन मिश्रा, नायब तहसीलदार सुशील प्रताप सिंह लेखपाल सोनल सिंह एवं तमाम अधिकारी एवं कर्मचारी गण मौजूद रहे।