मुंबई
वरिष्‍ठ नेता एकनाथ खडसे ने भाजपा के महाराष्ट्र अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल को इस्तीफा भेज दिया है। खडसे का कहना है कि वह व्यक्तिगत कारणों से भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रहे हैं। बता दें कि एनसीपी नेता जयंत पाटिल ने महाराष्ट्र भाजपा के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे ने पार्टी से इस्तीफा देने की जानकारी दी अौर कहा था कि उन्‍हें एनसीपी (NCP) में लेने का फैसला किया गया है। शुक्रवार को दोपहर में 2:00 बजे उन्‍हें औपचारिक रूप से एनसीपी में शामिल किया जाएगा।
ज्ञात हो कि महाराष्ट्र भाजपा के बड़े नेता एकनाथ खडसे फडणवीस सरकार में मंत्री रह चुके हैं। बीते कुछ दिनों से वे भाजपा से काफी नाराज चल रहे थे। खडसे का मानना था कि पार्टी में रहने का अब कोई औचित्य नहीं है। खड़से बुधवार शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस्तीफे का एलान करेंगे। एकनाथ खडसे के भाजपा से इस्‍तीफा देने पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का बयान आया है जिसमें मुख्‍यमंत्री ने खडसे का महाविकास अघाड़ी में प्रवेश की जानकारी का स्वागत किया है।
वरिष्‍ठ नेता एकनाथ खडसे के भाजपा से इस्तीफे पर जब देवेंद्र फडणवीस से मंगलवार को सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा था कि ‘मुझे खडसे के इस्तीफे के संबंध में औपचारिक रूप से कोई जानकारी नहीं है जानकारी मिलने के बाद मैं जरूर बात करूंगा।’ गौरतलब है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता एकनाथ खडसे को साल 2016 में देवेंद्र फडणवीस सरकार में मंत्री पद से इस्तीफा देने के लिए कहा गया था। उस समय उन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे। पहले भी आशंका व्‍यक्‍त की जा रही था कि 22 अक्टूबर को खडसे महत्वपूर्ण राजनीतिक फैसला ले सकते हैं। देवेंद्र फडणवीस से मीडिया ने जब जानना चाहा तो उन्होंने ये कहकर पल्‍ला झाड़ लिया कि ‘खडसे के पार्टी से जाने के ‘मुहुर्त’ के बारे में रोज बातें होती हैं और मैं इस संबंध में कुछ नहीं बोलूंगा।’