मंगलपुर थाना क्षेत्र के लौवा के पुरवा का है जहां पीड़ित पक्ष अपने घर के सामने निकलने के लिए रास्ते की लगातार मांग कर रहा है तो वहीं दूसरी तरफ उनके ही सगे भाई निकलने के लिए रास्ता देने को तैयार नहीं है आपको बताते चलें कि पीड़ित पक्ष लगातार घर से निकलने की रास्ते की मांग कर रहा है क्योंकि घर से निकलने का एक ही रास्ता है इसलिए पीड़ित को निकलने में काफी तकलीफ होती है।
वहीं पर पीड़ित पक्ष ने बताया कि मैं लगातार थाने के चक्कर लगा रहा हूं लेकिन अभी तक कोई भी कार्यवाही नहीं की गई और ना ही कोई आश्वासन दिया गया।पीडित पक्ष ने बताया कि मंगलपुर थाने के थाना प्रभारी ने कहाँ कि अपनी दीवाल गिरा कर दरवाजा रखो जाकर और मुझे वहाँ से भगा दिया। राजेश कुमार ने बताया कि अगर मुझे न्याय नहीं मिला तो मैं आत्महत्या कर लूंगा।

वहीं पर दूसरा पक्ष राम सिंह ने बताया कि मैं 7 फुट रास्ता देने के लिए तैयार हूं लेकिन भाई मेरा लेने को तैयार नहीं है। भाई के मकान का दरवाजा दूसरी तरफ था लेकिन अब मेरी जगह भी घेर लिया है और वहीं पर दरवाजा रखकर पूरा रास्ता मांग रहे हैं

वहीं दूसरी तरफ अगर देखा जाए तो पीड़ित पक्ष ने थाने पहुंचकर तहरीर भी दी है जमीनी विवाद को देखते हुए पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया है फिलहाल निर्माण कार्य पर रोक लगाई है दूसरी तरफ देखने वाली बात यह है कि क्या पीड़ित को न्याय मिलता है या उसके घर के सारे रास्ते बंद कर दिए जाएंगे।