सिरौलीगौसपुर बाराबंकी।भवानीगंज में चल रही चार दिवसीय श्री रामलीला धनुषयज्ञ में अंतिम दिन राम विवाह को रोचक अंदाज में प्रस्तुत किया गया। वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच राम-सीता का विवाह संपन्न हुआ। श्रीराम के द्वारा धनुष तोड़ने के बाद सीता के साथ हुई विवाह के अदभूत बेला में ऋषि मुनि, साधु संत भी उपस्थित होकर आशीर्वाद दिए। राम नाम का जप मात्र से ही मोक्ष की प्राप्ति हो जाती है। संगीत मंडली द्वारा राम विवाह पर आधारित भजन की प्रस्तुति की गई। इस अवसर पर रामनगर विधायक शरद अवस्थी ने श्री राम जी की पूजा आरती करके आशीर्वाद लिया वही मेला कमेटी अध्यक्ष अजय गुप्ता ग्राम प्रधान संतोष दिक्षित अल्ताफ हुसैन मुन्ना बीडीसी सचिन गुप्ता उमेश मास्टर शहीद मेला कमेटी के सदस्यों ने मुख्य अतिथि विधायक सरदार जी का माला पहनाकर स्वागत किया। इस अवसर पर शरद अवस्थी ने हमें राम के बताये रास्ते पर चलना चाहिए। ऐसे आयोजन से भाईचारा बढ़ता है। दरभंगा पार्टी बिहार के कलाकारों द्वारा रामलीला मंचन के तहत प्रभु श्री राम के जन्मोत्सव के प्रसंग के साथ भगवान श्रीराम की माता जानकी के साथ विवाह के प्रसंग की जीवंत प्रस्तुति की। रामलीला देखने पहुंचे लोगों ने भगवान राम के बाल रूप और उसके बाद उनके विवाह के समय उनकी छवि का आनंद उठाया। भगवान राम की चरित्र का चित्रण करते हुए कलाकारों ने बखूबी रामलीला का मंचन किया। युगों-युगों से समाज के लिए प्रेरणास्रोत रहे भगवान राम की बाल छवि का महिला पुरुष बच्चो ने भरपूर आंनद उठाया।