औरैया (दीपक कुमार पाण्डेय) जिला प्रशासन की जनविरोधी कार्यशैली के विरोध में भाकियू मंडल उपाध्यक्ष ने उप जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया।

जिला मुख्यालय ककोर में जिला प्रशासन निष्पक्ष भाव से अपने कर्तव्य व दायित्व का सही निर्वहन नहीं कर रहा है फरियादियों की शिकायतों का फर्जी निस्तारण किया जा रहा है शिकायतों की क्रास चेकिंग भी नहीं होती है जिले के आम किसान का धान न्यूनतम समर्थन मूल्य पर नहीं खरीदा जा रहा है आवारा जानवरों से किसानों की फसलें व जान को नुकसान हो रहा है विद्युत विभाग द्वारा उपभोक्ताओं का शोषण किया जा रहा है आरटीआई आवेदनों पर सही जानकारी नहीं दी जा रही है तथा प्रथम अपील पर सुनवाई भी नहीं हो रही है अधिकारी अपने दफ्तरों में समय से नहीं पहुंच रहे तथा आम नागरिकों के साथ दुर्व्यवहार भी कर रहे हैं, जिले के आला अफसर आम जनता को नजरअंदाज कर सत्तारूढ़ दल के नेताओं के साथ गुफ्तगू में व्यस्त हैं अधिकारी नेता फर्स्ट, आम जनता जाए भाड़ में की नीति पर काम कर रहे हैं जिला प्रशासन सरकार की मंशा के प्रतिकूल कार्य करके सरकार की छवि को धूमिल कर रहा है जिला प्रशासन की जनविरोधी कार्यशैली के विरोध में भाकियू मंडल उपाध्यक्ष संत कुमार तिवारी व जन जागरण समिति के अध्यक्ष महेश पांडे,व जिले के पीड़ित नागरिकों ने आज दिनांक दिनांक 25 जनवरी 2021 को जिला मुख्यालय ककोर पर धरना देकर उत्तर प्रदेश के महामहिम राज्यपाल एवं माननीय मुख्यमंत्री महोदय को संबोधित ज्ञापन अतिरिक्त उप जिलाधिकारी औरैया श्रीमती विजेता को सौंपा ज्ञापन में माननीय महामहिम व माननीय मुख्यमंत्री जी से निवेदन किया गया है कि वह इस ज्ञापन को संज्ञान में लेकर जिला के अधिकारियों को हिदायत दें। कि वह आम जनता की शिकायतों का निष्पक्ष भाव से गुणवत्ता पूर्वक निस्तारण करें। तथा निष्पक्ष व गुणवत्तापूर्ण निस्तारण न करने वाले अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई भी की जाए।और उन्हें सेवा मुक्त भी किया जाए श्री महेश पांडे ने जिलाधिकारी सुनील कुमार वर्मा व पुलिस अधीक्षक अपर्णा गौतम से शिकायतों के निष्पक्ष निस्तारण की अपील करते हुए सुझाव दिया है कि, वह स्वयं आम नागरिकों के लिए हमेशा उपलब्ध रहें तथा जिले में अकर्मण्य अधिकारियों को जिम्मेदारी के पद से हटाते हुए योग्य निष्पक्ष भाव से काम करने वाले अधिकारियों की नियुक्ति करें जिससे जिले की जनता में एक सही संदेश जाए, धरने की अध्यक्षता संत कुमार तिवारी ने कीआज के धरने को श्रीमती मिथलेश भदौरिया सुरेश राजपूत गोपाल कृष्ण गांधी अशोक राजपूत गिरीश सिकरवार गुलाब सिंह राजपूत दंगल सिंह भदौरिया देवेंद्र गौर देवेंद्र गुप्ता रविन्द्र कश्यप श्याम बाबू शर्मा शरद यादव नरेंद्र सेंगर ओमवीर यादव ने संबोधित किया धरनेमें जिले के सैंकड़ों किसान शामिल रहे।