बाराबंकी (सुधीर निगम) । स्वामी विवेकानंद की जयंती युवा दिवस के रूप में मंगलवार को जेबीएस दुल्हदेपुर में एकल अभियान के तत्वावधान में धूमधाम से मनाई गई।
टिकैतनगर स्थित जेबीएस दुल्हदेपुर में आयोजित कार्यक्रम में स्वामी विवेकानंद द्वारा शिकागो के विश्व धर्म सम्मेलन में दिए गए भाषण पर चर्चा की गई।
वरिष्ठ भाजपा नेता समाजसेवी इन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि स्वामी विवेकानंद का नाम सामने आते ही मन श्रद्धा व स्फूर्ति का संचार हो जाता है।श्रद्धा इसलिए कि उन्होंने भारत के नैतिक व जीवन मूल्यों को दुनिया के कोने-कोने में पहुंचाया। स्फूर्ति इसलिए कि उनके विचारों को अपनाने से जीवन को एक नई दिशा मिलती है।अंचल समिति अध्यक्ष डॉक्टर नीरज शुक्ला ने कहा कि विद्यार्थियों को स्वामी विवेकानंद के दर्शन को समझना चाहिए।उन्होंने विद्यार्थियों में चरित्र निर्माण पर जोर दिया।
समाजसेवी रामकुमार श्रीवास्तव ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को स्वामी जी के विचारों से प्रेरणा लेनी चाहिए।
इसमें युवाओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। आज देश का युवा अपने आत्मविश्वास को बिल्कुल खो चुका है। ऐसे समय में स्वामी विवेकानंद की प्रासंगिकता काफी बढ़ जाती है।उनके विचारों को अपनाकर युवा श्रेष्ठ राह की ओर अग्रसर हो सकते हैं
स्वामी जी के विचारों को फैलाने की जरूरत है
प्रशासक रामकिशोर वर्मा ने कहा कि स्वामी विवेकानंद की प्रासंगिकता हमेशा बनी रहेगी। उनके विचारों को अपनाने से ही पूरी दुनिया में शांति का माहौल तैयार हो सकता है।
आज पूरी दुनिया में अशांति का माहौल है। जाति, धर्म व क्षेत्र के नाम पर संघर्ष हो रहा है।इस कार्यक्रम मुख्य रूप से डॉक्टर प्रभाकर सिंह अजीत सिंह डॉ.रिचा सिंह पटेल आनन्द सिंह अमित सिंह राममनोरथ यादव सन्तोष शुक्ला छाया विश्वकर्मा आदि उपस्थित रहे।