सिरौलीगौसपुर बाराबंकी ।क्षेत्र के दुर्जनपुर व मेलारायगंज के मध्य आबादी की भूमि पर सैकडों वर्षो से लग रही साप्ताहिक बाजार को उसी गांव के कुछ दबंग अपनी भूमि बताकर बाजार लगने से रोक रहे थे जिसकी शिकायत मेलारायगंज व दुर्जनपुर के ग्राम प्रधानों ने दर्जनो ग्रामीणो के साथ 28 दिसम्बर को शिकायत किया था कि दबंग बाजार की भूमि जो कि आबादी मे है पर घरौनी दर्ज कराने का लेखपाल पर दबाव बना रहे हैं । जिसे उप जिलाधिकारी प्रतिपाल सिंह चौहान ने गम्भीरता पूर्वक लेते हुये राजस्व निरीक्षक लेखपाल व सफदरगंज पुलिस को मौके पर भेजकर बुधवार की बाजार लगवायी ।
बताते चलें कि मैलारायगंज व दुर्जनपुर पटटी सटे हुये गांव हैं आबादी की खाली पडी जमीन पर करीब 60 वर्षो से लोक प्रयोजन हेतु बाजार लगायी जा रही है ।तथा बाजार से सटे मे पुरानी धार्मिक मस्जिद जंहा पर दादा मिंया साहब का मेला तथा मोर्हरम पर्व पर जुलूस निकाला जाता है इसी बाजार युक्त आबादी की भूमि पर पर इबादुर्रहमान उर्फ नायाब आदि निवासी दुर्जनपुर पटटी सामाजिक शौहार्द विगाडने की नियत से तथा अपना अवैध कब्जा भूमि हथियाने की नियत से घरौनी कार्यक्रम मे क्षेत्रीय लेखपाल पर खुद की भूमि दर्ज करवाने का दबाव बना रहे है जब कि दुर्जन पुर के पूर्व प्रधान स्वर्गीय सतगुर प्रसाद ने बरसात मे भीगने के बचाव हेतु टीनसेड तथा छप्पर बीस वर्ष पूर्व रखवाया था ।एस डी एम ने मामले को गम्भीरता पूर्वक लेते हुये राजस्व निरीक्षक स्वामीनाथ सोनी लेखपाल सियाराम वर्मा व उपनिरीक्षक सफदरगंज विजय सिंह ,दुबे जी के अलावा मेलारायगंज प्रधान प्रतिनिधि शिब्ली मिंया दुर्जनपुर प्रधान विजयकुमार व सैकडों ग्रामीणों की मौजूदगी मे आबादी भूमि का चिन्हांकन करके भूमि पर बाजार लगवाया दुकानदार व ग्रामीण काफी खुश नजर आ रहे है ।