बाराबंकी(सुधीर निगम) । अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष सांसद राहुल गांधी तथा प्रदेश की प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा की मेहनत रंग लायी। माननीय उच्च न्यायालय के हस्तक्षेप से सीबीआई जांच के आदेश हुए और उसकी चार्जशीट में योगी सरकार का कथन झूठ साबित हुआ और हाथरस की बेटी के साथ इंसाफ हुआ, देश के संविधान, हाथरस की बेटी के सम्मान में कल दिनांक 24 दिसम्बर को मध्यजोन के जनपदों में कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के पदाधिकारी कार्यकर्ता नगर की बाल्मीकि बस्ती में संकल्प स्वाभिमान यात्रा निकालकर महर्षि वाल्मीकि जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर यात्रा का समापन करेंगे।
उक्त आशय की जानकारी उत्तर प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के मध्य जोन के कार्यकारी अध्यक्ष तनुज पुनिया ने अपने ओबरी आवास पर प्रेस वार्ता के माध्यम से दी।
मध्य जोन के अनुसूचित जाति विभाग के कार्यकारी अध्यक्ष तनुज पुनिया ने पत्रकार भाईयों से कहा कि अभी हम सभी लोग हाथरस की दलित बेटी पर रेप और हत्या का मामला भूले नही हैं जिसमें प्रदेश की दलित विरोधी योगी सरकार दोषियों के साथ खडी नजर आयी और सरकार तथा प्रशासन के इशारे पर रातोंरात मामले को रफा दफा करने के लिये सरकार तथा प्रशासन के इशारें पर दलित बेटी के शव को पेट्रोल डालकर जला दिया इतना ही नही प्रदेश सरकार ने दलित बेटी के मरने के बाद भी उसके चरित्र को हनन कर उसके सम्मान को तार-तार किया और बेटी की मां और भाई को आरोपी बनाने की घृणित कोशिश की।
जब इस घटना के विरोध में हमारे नेता राहुल गांधी तथा प्रियंका गांधी मृतक पीड़िता के परिवार से मिलने और दलित बेटी को इंसाफ दिलाने निकली तो उनके साथ अभद्रता तथा पुलिस प्रहार भी किया गया लेकिन जब माननीय उच्च न्यायालय मामलें को संज्ञान में लेकर प्रदेश की योगी सरकार को फटकार लगायी तो घटना की सीबीआई जांच शुरू हुई और उसकी चार्जशीट ने उ.प्र. सरकार के कथन को झूठ साबित कर दिया और यह साबित हो गया कि हाथरस की दलित बेटी के साथ निर्दयतापूर्वक बलात्कार किया गया, उसे यातनाऐं दी गयी और मार दिया गया।
तनुज पुनिया ने कहा कि यदि माननीय उच्च न्यायालय, मीडिया, राहुल गांधी तथा श्रीमती प्रियंका गांधी सहित प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष आलोक प्रसाद, पदाधिकारी तथा प्रदेश प्रभारी प्रदीप नरवाल सच्चाई लाने के लिये संघर्ष न करते तो दलित बेटी के साथ हुए अमानवीय कृत्य की सच्चाई सामने न आती। कल 24 दिसम्बर को हाथरस की बेटी को मिले न्याय के सम्मान में हम सभी बाल्मीकि बस्तियों में संकल्प स्वाभिमान यात्रा निकालकर वाल्मीकि जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करके कार्यक्रम का समापन करेंगे।