औरैया(दीपक कुमार पाण्डेय) ।

गोंविद नगर निवासी बीटीसी तृतीय सेमेस्टर का छात्र मारूति नंदन तिवारी उर्फ पिंकू (26) पुत्र वीरेंद्र कुमार तिवारी शनिवार की दोपहर लगभग 12 बजे यमुना नदी पुल पर पहुंचा और पानी में छलांग लगा दी। घटना के दौरान शमशान घाट पर मौजूद लोगों ने युवक को कूंदते देखा तो उस तरफ भागे लेकिन युवक एक बार पानी में उछाल लेने के बाद फिर से पानी में अंदर चला गया।इसके बाद बाहर नहीं आया इस पर लोगों ने तत्काल पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंचे प्रभारी कोतवाली इंस्पेक्टर शशांक राजपूत, देवकली चौकी इंचार्ज प्रवेंद्र कुमार, ब्रह्मनगर चौकी इंचार्ज काली चरन ने मल्लाहों की मदद से पानी में जाल डलवाए लेकिन कुछ भी पता नहीं चला। जानकारी पर पहुंचे सीओ सिटी सुरेंद्र नाथ यादव ने मामले की जानकारी ली और गोताखोर को बुलाने के निर्देश दिए। मौके पर पहुंचे गोताखोर ने पानी में काफी देर तक खोजबीन की लेकिन दूर-दूर तक नहीं मिला पुलिस ने एनडीआरएफ टीम कानपुर को मामले की सूचना देकर बुलाया है। रविवार को टीम के आने की संभावना है। उधर प्रभारी कोतवाली इंस्पेक्टर शशांक राजपूत ने बताया कि अभी घटना की वजह नहीं पता चली है। नदी में कूदने की जानकारी परिजनों को तब हुई। जब उसके बड़े भाई आरती नंदन ने फोन के व्हाट्स अप स्टेट्स पर लगाए गये सुसाइड नोट को देखा। जिसमें लिखा था कि मैं अपने जीवन से खुश नहीं हूंँ। मेरा जीवन अंधकार में है इसलिए आगे का कोई रास्ता नहीं दिख रहा है , मैं क्या बताऊं सच बोलूं तो मैं जीवन को जीना ही नहीं चाहता इस अंधकार पूर्ण जीवन को जीने से क्या लाभ है, इस लिए मैं आत्म हत्या करने जा रहा हूंँ।