बाराबंकी(सुधीर निगम) । विगत 06 अगस्त को हरिनाथ (ग्राम प्रधान) पुत्र राजाराम निवासी सुल्तानपुर थाना सतरिख जनपद बाराबंकी द्वारा थाना सतरिख पर लिखित सूचना दी गई कि ग्राम सुल्तानपुर में रेठ नदी के किनारे एक अज्ञात महिला का शव पड़ा है। उक्त सूचना पर तत्काल मौके पर पहुंच कर डॉग स्क्वॉड व फील्ड यूनिट द्वारा परिस्थितिजन्य साक्ष्य एकत्रित किया गया । थाना सतरिख पुलिस टीम द्वारा रेठ नदी के किनारे पड़े शव को कब्जे में लेकर पंचायत नामा भरकर पोस्टमार्टम हेतु भेजा गया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर युवती की उम्र-20 वर्ष एवं लगभग 07 माह की गर्भवती पाया गया ।

पुलिस अधीक्षक बाराबंकी डॉ0 अरविन्द चतुर्वेदी द्वारा उक्त शव एवं उसके कपड़ों की फोटो से शिनाख्त कर उक्त घटना का सफल अनावरण करने एवं हत्याभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी करने हेतु 02 पुलिस टीमों का गठन किया गया । प्रथम टीम प्रभारी निरीक्षक सतरिख के नेतृत्व में भौतिक साक्ष्य का संकलन का कार्य किया जा रहा था एवं द्वितीय टीम प्रभारी चौकी मानपुर द्वारा शव के शिनाख्त हेतु उक्त शव एवं उसके कपड़ों की की फोटो को समाचार पत्रों, सोशल मीडिया के माध्यम से आसपास के जनपद सुल्तानपुर, अमेठी, रायबरेली व लखनऊ में गुमशुदा युवती के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की जा रही थी एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के माध्यम से भी शिनाख्त हेतु प्रचार-प्रसार किया जा रहा था । इसी क्रम में पुलिस टीम को महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त हुई । शव की फोटो को ग्राम सैलखा के ग्रामीणों ने देखा तो दबी जुबान से बताया गया कि यह फोटो राम सुचित की पुत्री का है । पुलिस टीम द्वारा अब तक किये गये अथक प्रयास से यह सुराग प्राप्त हुआ था जिसके माध्यम से शव की शिनाख्त ग्राम सैलखा निवासी राम सुचित यादव पुत्र जगन्नाथ यादव की पुत्री के रूप में हुआ ।
प्रभारी निरीक्षक सतरिख ब्रजेश कुमार वर्मा के नेतृत्व में थाना सतरिख पुलिस टीम द्वारा अभिसूचना को विकसित करते हुए हत्या कारित कर शव को रेठ नदी में फेंकने वाले अभियुक्त 1- महेश प्रसाद पुत्र जगन्नाथ यादव निवासी ग्राम सलैखा थाना सतरिख जनपद बाराबंकी, 2- हरिओम यादव पुत्र राम सुचित यादव निवासी ग्राम सलैखा थाना सतरिख जनपद बाराबंकी को गिरफ्तार कर घटना का सफल अनावरण किया गया ।

अभियुक्तों से पूछताछ एवं साक्ष्य संकलन से प्रकाश में आया कि मृतका अपने ननिहाल थाना देवा क्षेत्रान्तर्गत ग्राम रायगंज में रहती थी और वहां रहकर पढ़ाई करते हुए ग्राम बरेठी स्थिति एक प्रतिष्ठित इण्टर कालेज से वर्ष-2018 में 10+2(इण्टर) की परीक्षा पास की थी । मृतका का अपने ननिहाल में ही किसी लड़के से शारीरिक संबंध स्थापित हो गये जिसके कारण वह गर्भवती हो गयी । इसी बीच रक्षाबंधन 03 अगस्त, 2020 को था, इस कारण मृतका के पिता त्योहार पर ननिहाल आकर मृतका को अपने घर ग्राम सैलखा ले आये तो परिजनों को मृतका के बिन व्याही गर्भवती होने की जानकारी हुई । परिजनों द्वारा मृतका पर दबाव बनाया गया कि वह लोक-लाज के कारण गर्भपात करवा दे लेकिन मृतका ने परिजनों की बात मानने से इंकार कर दिया । पूछताछ पर मृतका के भाई ने बताया कि 4/5.08.2020 की रात्रि को बहन का शव घर पर मिला जिसे वह अपने पिता और ताऊ के साथ रात्रि में लगभग 03 बजे रेठ नदी में ले जाकर शव को फेंक आया था । यह भी जानकारी हुई कि राम सुचित द्वारा अपनी पुत्री के बारे में लोगों द्वारा पूछने पर ननिहाल में रहना बताया जाता रहा और घटना को छुपाने का प्रयास किया जाता रहा ।