बाराबंकी (सुधीर निगम)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के दिशा निर्देश पर किसान विरोधी बिल के खिलाफ धरना प्रदर्शन किए जाने का कार्यक्रम निर्धारित था परन्तु सरकार की हाठ धरमी नीति की वजह से प्रशासन ने किसानों के समर्थन में सपा केन्द्र सरकार के काले कानून के खिलाफ शान्ति पूर्ण से महात्मा गाँधी की प्रतिमा के नीचे गांधी भवन में प्रर्दशन कर रहे सपा एमएलसी राजेश यादव राजू सहित भारी संख्या में कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया परंतु समाजवादी पार्टी के जुझारू कार्यकर्ताओं ने खबर पाते ही राजेश यादव के साथ पहुंच कर रोड पर धरना प्रदर्शन कर जोरदार नारेबाजी की और सरकार विरोधी नारों से प्रशासन की नींद हराम कर दी।राजेश यादव राजू ने कहा कि जब तक यह किसान विरोधी काला कानून वापस नहीं हो जाता समाजवादी पार्टी का विरोध जारी रहेगा।और उन्होंने कहा कि 2022 में इस जुल्मी जालिम सरकार को यही किसान बटन दबा कर सत्ता से बाहर करने का काम करेंगे,और किसान के बेटे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को पुनः मुख्यमंत्री बनाने का काम करेंगे।आज पूरे देश में किसान, नौजवान,मुसलमान,सभी परेशान है लेकिन सत्ता में बैठे गूंगे बहरे लोग उनकी आवाज को नजर अंदाज कर रहे हैं इनको तो ऊपर वाला भी नहीं माफ करेगा। मुख्य रूप से पूर्व चेयरमैन हफीज भारती, जिलाउपाध्यक्ष हिमांशु, पूर्व जिलाध्यक्ष यूथ बिग्रेड यशवंत यादव, युवजनसभा जिला महासचिव आकाश बक्श, आलोक, रवी, अभिषेक वर्मा, शिवाम यादव, विकास चन्द वर्मा, वैभव सैनी, राजेन्द्र वर्मा, चन्दन, उमेश यादव, अमित चौधरी, अमरेन्द्र, वेद प्रकाश रावत, जितेन्द्र, पवन यादव, अंकित, दिलीप, मनोज, कुलदीप, अमरीश यादव, प्रदीप यादव, रामराज, संजय यादव, ने गिरफ्तारी हुई ।