सिरौलीगौसपुर बाराबंकी। विभागीय लापरवाही के कारण सड़क से चिपक कर लगे विद्युत पोल दे रहे हैं दुर्घटना को दावत ।अक्सर राहगीर इन खंभों से टकराकर हो रहे हैं घायल। शिकायत के बाद भी इन खंभों को हटवाना विद्युत विभाग मुनासिब नहीं समझता। बताते चलें कि कोटवाधाम से कोटवा सड़क जाने वाले मुख्य मार्ग पर अद्रा गांव के पास विद्युत पोल डामरीकरण सड़क से चिपके हुए लगे हैं ।जहां पर मोड़ होने के कारण अक्सर लोग इन खंभों से टकराकर घायल हो रहे हैं। ग्रामीणों द्वारा इसकी शिकायत कई बार अधिशासी अभियंता रामसनेहीघाट से की गई किंतु अधिकारियों की लापरवाही के कारण इन खंभों को सड़क से दूर करना मुनासिब नहीं समझा गया है।जिससे अक्सर इस मार्ग पर दुर्घटनाएं होती रहती हैं। कई बार इन दुर्घटनाओं के चलते लोगों की मौतें भी हो गई। विद्युत विभाग के लापरवाह अधिकारी इस ओवर ध्यान देना मुनासिब नहीं समझते।जिससे आसपास के गांवों के ग्रामीणों में रोष व्याप्त है। ग्राम अद्रा निवासी पिंटू सिंह फौजी आदि ने इसकी कई बार शिकायत किया कि इन खंभों के वजह से सड़क दुर्घटनाएं हो रही हैं।इन खंभों को सड़क से दूर किया जाए। परंतु विभागीय अभियंताओं की मनमानी के चलते इस ओर ध्यान नहीं दिया गया ।जिसके चलते ज्योति रावत पुत्र राम सागर रावत निवासी विछलखा निवासी की दर्दनाक मौत विगत वर्ष हुई थी। इतना ही नहीं अभी चंद दिनों पहले कोटवा धाम के निकट मातन मन्दिर देवस्थान पर ट्रक पलटने के कारण ड्राइवर व खलासी विद्युत स्पर्श से हुए घायल थे उसके बाद बिजली विभाग में औपचारिकता पूर्ण करते हुए विद्युत पोल को बदलवा कर कर्तव्य से इतिश्री कर लिया था। इसी प्रकार कोटवाधाम मेला क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था काफी अव्यवस्थित है।जबकि यहां हर मंगलवार बृहस्पतिवार तथा पूर्णमासी को हजारों की संख्या में श्रद्धालु आते हैं ।विद्युत विभाग इन श्रद्धालुओं से खिलवाड़ कर रहा। इस संबंध में अधिशासी अभियंता रामसनेहीघाट एनके पांडे से दूरभाष पर बात करने के लिए प्रयास किया गया तो उन्होंने फोन रिसीव करना मुनासिब नहीं समझा।