औरैया (दीपक पाण्डेय) कोतवाली पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर मंगलवार की दोपहर 2 कंटेनरो में वध के लिए ले जाये जा रहे गोवंशों को बरामद कर मुक्त करा लिया , वही कसाईयों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। कसाईयों ने पूछताछ के दौरान पकड़े गये आरोपितों ने अपना जुर्म कबूल किया है।पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा ने मंगलवार को कोतवाली में प्रेसवार्ता के दौरान 2 कंटेनरो में पकड़े गये जिंदा व मृतक गोवंशों के विषय में खुलासा करते हुए बताया कि उन्हें कुछ दिनों से मुखबिर के द्वारा सूचना मिल रही थी, कि जनपद जालौन की तरफ से कुछ कसाई लोग ट्रक व कंटेनर में गोवंशो को भूसे की तरह निर्दयता पूर्वक भरकर यमुना ब्रिज जालौन रोड के रास्ते से दूसरे प्रदेशों में ले जाते हैं। मुखबिर की सूचना पर कोतवाली पुलिस द्वारा मामले की संवेदनशीलता से ध्यान में रखते हुए गोपनीय तरीके से ऐसे कंटेनर व ट्रक कंटेनरो के विषय में जानकारी संग्रह की गई। इसी के चलते अपर पुलिस अधीक्षक शिष्यपाल व क्षेत्राधिकारी सदर सुरेंद्र नाथ यादव के कुशल नेतृत्व में कोतवाली पुलिस को मंगलवार की दोपहर करीब साढे 12 बजे 2 कंटेनरों में 15 -15 गोवंश को बरामद किया। जिनमें से 1-1मृत अवस्था में पाया गया। इसके साथ ही पकड़े गए आरोपितों के कब्जे से गड़ासा , बका व छुरा आदि सामान की भी बरामद किया गया है। पूछताछ के दौरान अभियुक्तों ने बताया कि वह लोग ग्रुप बनाकर गोवंश तस्करी का काम करते हैं। जालौन मध्यप्रदेश के जंगली इलाकों में गाड़ियां लगाकर गोवंश भरते हैं , और कंटेनरों में भर कर ले जाते हैं , ताकि कोई शक ना कर सके। पकड़े गए अभियुक्तों में मोहम्मद चांद खान पुत्र मोहम्मद अब्दुल रहमान खान निवासी पुरानी चट्टी मोहल्ला कस्बा व थाना शेरघाटी जनपद ग्या बिहार , मोहम्मद अयूब खान पुत्र मोहम्मद मकसूद खान निवासी गजाधर पुर निवासी उपरोक्त व तौफीक अहमद सिद्धकी पुत्र स्वर्गीय सुल्तान अहमद सिद्धकी निवासी नौदर सलोनी थाना बलिया जनपद चंदौली उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए आरोपितों के खिलाफ गोवध निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया है , तथा आवश्यक कार्यवाही करते हुए जेल भेजा जा रहा है। अभियुक्त गणों को गिरफ्तार करने वालों में प्रमुख रूप से कोतवाल संजय पांडे , उपनिरीक्षक सुधीर भारद्वाज , उप निरीक्षक सुरेंद्र सिंह , उपनिरीक्षक जितेंद्र सिंह , उपनिरीक्षक राम प्रकाश यादव , हेड कांस्टेबल सुनील , कांस्टेबल रवि , कांस्टेबल दीपेंद्र , कांस्टेबल अंकित कुमार , कांस्टेबल पुष्पेंद्र , कांस्टेबल विजयकांत , कांस्टेबल राजेश व कांस्टेबल विपिन कुमार आदि लोग शामिल रहे।