कानपुर देहात
देश के 9 साहित्यकारों में जिले के बाल साहित्यकार को चुना गया
कानपुर देहात। जिले के युवा बाल साहित्यकार शिव मोहन यादव को बिहार के बाल साहित्य शोध संस्थान द्वारा उनकी पुस्तक ‘सिंहों के अवतार तुम्हीं हो’ के लिए सम्मानित किया गया। यह सूचना संस्थान के निदेशक डॉ सतीश चंद्र भगत की ओर से 2 अक्टूबर की रात को जारी की गई।
शोध संस्थान को प्राप्त चुनिंदा 26 पुस्तकों में से देशभर के नौ बाल साहित्यकारों की पुस्तकों का चयन किया गया है। पुरस्कृत साहित्यकारों में बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के साहित्यकार शामिल हैं। यह सम्मान समारोह 9 फरवरी, 2022 को वैशाली में आयोजित किया जाएगा। इससे पहले भी शिव मोहन को उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान से उनकी पुस्तक ‘लल्ला और बिट्टी’ के लिए बालकृष्ण शर्मा नवीन पुरस्कार प्रदान किया गया था। उनकी इस पुस्तक में देशभक्ति पूर्ण 66 कविताएं संकलित हैं। वे राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग, भारत सरकार की ओर से अंतरराष्ट्रीय बाल साहित्य सम्मेलन में प्रतिभाग कर चुके हैं। राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद तथा राष्ट्रीय बुक न्यास समेत भारत सरकार की विभिन्न संस्थाओं में बाल विशेषज्ञ एवं जूरी मेंबर के तौर पर सम्मिलित हो चुके हैं। अभी तक बाल साहित्य की 4 पुस्तकें लल्ला और बिट्टी, रबड़ी दूध मलाई, उड़ने वाली कार, प्रकाशित हो चुकी हैं। पुरस्कार के लिए उन्हें जिला समेत पूरे देश से बधाइयां मिल रही हैं।