निष्पक्ष जन अवलोकन। अजय रावत।
सिरौलीगौसपुर। चकमार्ग की पैमाइश एवं पटाई के बाद निर्माण कार्य रोके जाने के मामले में पीड़ित ने जिलाधिकारी से हस्तक्षेप की मांग किया है।
कोतवाली बदोसराय के ग्राम खजुरिहा में गत वर्ष तत्कालीन उपजिलाधिकारी प्रतिपाल सिंह की मौजूदगी में गाटा संख्या 43, 84, 85 की पैमाइश कराई गई थी पैमाइश के बाद उप जिलाधिकारी के निर्देश पर ग्राम पंचायत द्वारा उक्त चकमार्ग की पटाई कराई गई इसके पश्चात दोनों पक्षों ने अपने-अपने खेतों में पिलर बना लिया। एक वर्ष के बाद शिकायतकर्ता अनिल कुमार ने अपनी भूमि पर निर्माण कार्य शुरू कराया तो उप जिलाधकारी विपक्षी कृष्ण कुमार की शिकायत पर राजनीतिक दबाव के चलते कार्य को रुकवा दिया अनिल कुमार द्वारा जिलाधिकारी से की गई शिकायत में कहा है कि विपक्षी मेरे निर्माण कार्य में व्यवधान डाल रहे हैं तथा राजस्व प्रशासन से पुनः पैमाइश करवाने के लिए प्रयासरत हैं जबकि सात बार उक्त मामले की पैमाइश कराई जा चुकी है। जबकि दोनों पक्षों का समझौता कराने के बाद ही ग्राम पंचायत ने उक्त मार्ग की पढ़ाई करवाई थी तथा उस पर आवागमन जारी है इस संबंध में उप जिलाधिकारी सुरेंद्र पाल विश्वकर्मा ने बताया की मामले में राजस्व निरीक्षक से रिपोर्ट मांगी गई है उसी के आधार पर आगे कार्यवाही की जाएगी।