औरैया (दीपक पाण्डेय) सीज पैथोलॉजी मिली संचालित पुनः की गयी सीज, संचालक के खिलाफ कराया मामला दर्ज।

बाबरपुर कस्बे में सीज पैथोलॉजी होते मिली संचालित सीएचसी की स्वास्थ्य टीम ने, पुलिस की मदद लेकर, पुनः किया सीज। सीज पैथोलॉजी संचालक के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया।

पिछले 20 अक्टूबर को बाबरपुर कस्बे के मोहल्ला अशोक नगर निवासी रवि कठेरिया की 8 वर्षीय पुत्री रिया बीमार हो गई थी। बीमार बेटी के पिता नेे मोहल्ले में ही स्थित बघेल पैथोलॉजी पर जांच करवाई थी। जांच के आधार पर शुरू हुई दवा से आराम न मिलने पर वह अपनी पुत्री को इटावा और उसके बाद आगरा और वहां से जयपुर, इलाज के लिए ले गया । जयपुर में उसकी पुत्री ने दम तोड़ दिया था। पुत्री रिया की मौत में, बघेल पैथोलॉजी के संचालक पर गलत रिपोर्ट दिए जाने का आरोप लगाते हुए रवि ने पैथोलॉजी संचालक अनिल बघेल के खिलाफ कोतवाली में मामला दर्ज कराया था। इस प्रकरण में स्वास्थ्य विभाग की ओर से की गई जांच में, पैथोलॉजी का संचालन मार्च 2019 तक ही मान्य होने की पुष्टि करते हुए, अवैध संचालन के आरोप में सीएमओ के आदेश पर सीएचसी अधीक्षक डॉ विमल कुमार की ओर से भी कोतवाली अजीतमल में पैथोलॉजी संचालक के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था। साथ ही संचालित पैथोलॉजी को सीज कर दिया गया था। किंतु बीते दिनों फिर से पैथोलॉजी संचालित होने की भनक लगते ही बीते सम्पूर्ण समाधान दिवस में रवि की ओर से शिकायती पत्र दिया गया था।

सीएचसी अधीक्षक डॉ विमल कुमार ने बताया कि शिकायत और विभागीय जांच के आधार पर पैथोलॉजी दो वार जॉच 27 अगस्त डा0 मनीष की टीम, 30 अगस्त डा0 ए0पी0 सिंह की टीम द्वारा जॉच करायी गयी थी तदोपरान्त आज उनकी टीम ने जॉचकर सीज पैथोलॉजी पुनः संचालित होते पाये जाने पर उसे सीज किया गया है। उच्चाधिकारियों के आदेश पर पुनः जांच की गई है सीज के बाबजूद अवैध तरीके से, बिना रजिस्ट्रेशन ,पैथोलॉजी संचालित की जा रही थी। पैथोलॉजी को सीज कर, वर्तमान संचालक निर्मल बघेल के खिलाफ चिक्तसीय एक्ट के नियमो का पालन न करने के खिलाफ कोतवाली अजीतमल में मामला दर्ज कराया जा रहा है। पूरी जांच रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेज दी गई है।