निष्पक्ष जन अवलोकन।
योगेश जायसवाल।
लखनऊ। छठे दिन मंगलवार को उत्तर प्रदेश लाल झंडा मजदूर यूनियन 6 राणा प्रताप मार्ग , लखनऊ में जल निगम मुख्यालय पर धरना/प्रदर्शन जारी रहा । धरने की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष, क0 गिरीश कुमार यादव द्वारा किया गया। धरने का संचालन प्रदेश महामंत्री क0 अजय कुमार गुप्ता एवं सहायक महामंत्री क0 अखिलेश कुमार वर्मा द्वारा किया गया।
बैठक में निम्न पदाधिकारियों द्वारा अपनी 12 सूत्रीय मांगों को लेकर प्रबंध निदेशक जल निगम द्वारा मनमानी तरीके से 1238 कर्मचारी सरप्लस घोषित कर प्रतिनियुक्ति का विरोध जताया एवं माह अप्रैल से वेतन/पेंशन न मिलने का विरोध किया। नियमित फील्ड कर्मचारी वर्ष 1992 ,1993,1994 एवं 1995 से नियमित कर्मचारी की पी0पी0ओ न जारी करने का विरोध किया गया एवं सेवानिवृत्त कर्मचारियों के देयकों का भुगतान वर्ष 2017 से अब तक नहीं किया गया। एवं सेवानिवृत्त कर्मचारियों को 142% डी0ए0 जा रहा है। जबकि वर्तमान में 189% दिया जाना है। जल निगम में कार्यरत नियमित फील्ड कर्मचारियों की शैक्षिक योग्यता के आधार पर समायोजन किया जाये। वर्तमान में रोकी गई अनुकंपा नियुक्ति को बहाल किया जाये।
अंत में प्रदेश संरक्षक क0 आर0पी0 शाक्य ने अपनी 12 सूत्रीय मांगों का जब तक निराकरण नहीं हो जाता तब तक धरना आंदोलन अनवरत जारी रहेगा।
धरने में प्रदेश उपाध्यक्ष शिव रक्ष दुबे, प्रदीप तिवारी, सर्वेश यादव, मुनीश कुमार, मिथलेश कुमार, राजेंद्र कुमार, देवकीनंदन, आदि मौजूद रहे।