*एम.जी स्पोर्टस क्लब ने जयंती पर हाकी के जादूगर को किया याद

निष्पक्ष जन अवलोकन।
योगेश जायसवाल।
बाराबंकी। खेल को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार बहुत कार्य कर रही है। विश्व पटल पर जनपद का नाम रोशन करने वाले बाबू के.डी सिंह की स्मृति में पुलिस लाइन चौराहा बनाया जाना एक अच्छी पहल है। महात्मा गांधी स्पोर्टस क्लब मेधा खिलाड़ियों को तैयार कर रही है। जो आगे चलकर एक बार फिर जनपद का नाम रोशन करेंगे। यह बात रविवार को नगर के पुलिस लाइन ग्राउंड में प्रातः 7 बजे महात्मा गांधी स्पोर्टस क्लब द्वारा आयोजित हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद की जयंती पर क्लब के संस्थापक राजनाथ शर्मा ने कही। इस मौके पर खिलाड़ियों ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर नमन किया। तदोपरान्त केक काटकर खिलाड़ियों ने जयंती मनाई। इस दौरान हॉकी का मैत्री मैच भी खेला गया और सभी खिलाड़ियों को मिष्ठान वितरित किया गया। श्री शर्मा ने कहा कि खेल को बढ़ावा तभी मिल सकता है जब खिलाड़ियों को निःशुल्क खेल मैदान की व्यवस्था दी जाए। नगर में एक अतिरिक्त मिनी स्टेडियम या खेल मैदान की बहुत आवश्यकता है। जिससे नई पीढी के होनहार खिलाडियों को तैयार किया जा सके। मेजर ध्यानचंद अपनी प्रतिभा से हॉकी को अमर कर दिया। मेजर ध्यानचंद सही मायनों में देशरत्न थे, हैं और रहेंगे। हॉकी के राष्ट्रीय खिलाड़ी एवं क्लब के अध्यक्ष सलाउद्दीन किदवई ने कहा कि हॉकी में ध्यानचंद सा खिलाड़ी न तो हुआ है और न होगा। वह जितने बडे़ खिलाड़ी थे उतने ही नेकदिल इंसान थे। मेजर ध्यानचंद सही मायने में हॉकी के पहले और आखिरी लीजैंड थे। हॉकी के खेल में ध्यानचंद ने लोकप्रियता का जो कीर्तिमान स्थापित किया है उसके आसपास भी आज तक दुनिया का कोई खिलाड़ी नहीं पहुँच सका हैं। इस मौके पर हॉकी के राष्ट्रीय खिलाड़ी विजय अवस्थी, परवेज अख्तर, चंदन अस्थाना, जेपी पूर्वाेत्तर रेलवे, मो अफज़ाल राजू, धनंजय शर्मा, मुजीब अहमद उत्तर रेलवे, मोहम्मद अयाज अंसारी, निसार अहमद, डॉ विक्रम सिं, अनुराग श्रीवास्तव, दीपक रावत, महफूज अंसारी, इमदाद आलम, मोहम्मद समद, आफताब आलम, अखलद अंसारी, मोहम्मद कैफ, मोहम्मद असिम, अमान अंसारी, मो इब्राहिम, मो एहतिशाम, सोमनाथ पांडेय आदि खिलाड़ी उपस्थित रहे।