*उत्तर प्रदेश कानपुर देहात।*

हरि गोविंद कुशवाहा,

आपको बताते चले की पूरा मामला जनपद कानपुर देहात के तहसील डेरापुर क्षेत्र के गावं चम्पतपुर का है जॅहा पर कोटेदार श्यामसुन्दर के प्रति लिखित शिकायत प्रार्थना पत्र पर गम्भीर आरोप लगाते हुये बताया है कि कोटेदार श्यामसुन्दर पूर्ति निरीक्षक व राज नैतिक रसूक के चलते प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत शासन से प्राप्त निःशुल्क खाद्यान्न को माह जुलाई 2021 में ग्रामीणो को राशन न देने की बात सामने आयी, तथा ग्रामीणो में आरोप लगाते हुये यह भी कहा कि पूर्व में शासन से प्राप्त निःशुल्क राशन कोटेदार द्वारा वितरित किया गया था उसमें भी कोटेदार द्वारा कार्डधारको व उनके परिवारीजनो से प्रति राशनकार्ड पर राशन देने के नाम पर 30 रूपये प्रतिकार्ड लिये गये है। इसके साथ ही उन्होने कोटेदार के आचरण व व्यवहार के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुये गावं में जन आक्रोश दिखाते हुये कहा कि जब हम लोगो राशन लेने जाते है तो कोटेदार मनमाने तारीके से ग्रामीणो के अगूठे लगावार कर राशन नही देता है। साथ ही घटतौली कर राशन देता है ग्रामीणो द्वारा कोटेदार का विरोध करने पर अभ्रदता व गाली-गलौज पर आमादा हो जाता है। जिससे तीन दर्जन ग्रामीणो ने आज जन गावं में हगमां कर कोटेदार के खिलाफ उपजिलाधिकारी व पूर्ति निरीक्षक डेरापुर को लिखित शिकायती प्रार्थना पत्र देते हुये न्याय की गुहार लगाई है। इस सम्बन्ध पूर्ति निरीक्षक ने ग्रामीणो को आश्वास देते हुये कहा कि जाॅच कर ऐसे कोटेदार से विरूद्ध सुगंत धाराओं में केश दर्ज करवाकर कानून कठोर कार्यवाही की जायेगी।