निष्पक्ष जन अवलोकन।
मेहनत जारी रख
मुश्किले आसान नहीं, बस तू  सीखने को तैयारी रख |
हर राह कामयाबी आएगी, बस तू चलने को तैयारी रख |

ऐसा भी होगा, अपने भी ना समझेंगे |
तुम लड़ते रहना, वो दूर किनारा कर लेंगे |
विषम परिस्थिती पर, निर्णय लेने की समझदारी रख |
हर राह कामयाबी आएगी, बस तू चलने को तैयारी रख |

क्यूँ आता है, तू औरों की बातों में |
जब खुद ही चलना है अकेले, हर हालातों में |
रख खुद पे भरोसा, बाजु में दुनियादारी रख |
हर राह कामयाबी आएगी, बस तू चलने को तैयारी रख |

जब चले नहीं हम दो पग तो, हर रास्ता लम्बा लगता है |
जब व्यस्त रहो तुम मेहनत में, वक्त का पता कहाँ चलता है |
मिलेगा सब कुछ, थोड़ा सब्र की सवारी रख |
हर राह कामयाबी आएगी, बस तू चलने को तैयारी रख |

तू हीरा है, मत देख कौन साथ आएगा |
कौन अपना है, वक्त के साथ, पता चल जाएगा |
खोखला ना बन, खुद को गुणों से शक्तिशाली रख |
हर राह कामयाबी आएगी, बस तू चलने को तैयारी रख |

वजूद उसी का है, जो अंत तक टिकता है |
जिसमें धैर्य ना हो, वो लक्ष्य से सदा भटकता है |
समय कीमती है, तू हर पल मेहनत जारी रख |
हर राह कामयाबी आएगी, बस तू चलने को तैयारी रख |
   -यादव बलराम(स०अ०)
   कम्पोजिट स्कूल सहरी
ब्लाक-सिरौलीगौसपुर,बाराबंकी