औरैया (दीपक कुमार पाण्डेय) परवान नही चढ़ पाई परियोजना युवा बेरोजगार किसानों की मांगे नही हुई पूरी कंचौसी क्षेत्र में यूपीएसआईडीसी ने सात गांवो की 314 एकड़ भूमि का अधिग्रहण किया था।फिर किसानों के मुआवजे का विवाद शुरू हो गया फिर उद्योग नही लग सका।सपा सरकार में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्लास्टिक सिटी बनाने की घोषणा की थी।उसके बाद किसानों का भूमि विवाद नही सुलझा ।एक बार फिर 19 उद्यमियों को कब्जा देने की मंजूरी दी गई।इधर परियोजना स्थल पर मरम्मत कार्य फिर से शुरू हो गया है।250 करोड़ की लागत से तैयार होने वाली परियोजना किसानों के मुआवजा ना मिलने के अधर में लटकी है ।इस परियोजना से आस लगाए कंचौसी क्षेत्र व उसके आसपास गांवो के युवा बेरोजगार घूम रहे हैं ।प्लास्टिक सिटी का आलम ये है कि मुआवजा ना मिलने पर किसानों के विरोध के चलते चौकी जर्जर हालत में जा पहुंची है।सड़क खस्ताहाल हो चुकी है सड़क से चार पहिया वाहन तो दूर की बात दो पहिया वाहन भी निकलना मुश्किल है।प्लास्टिक सिटी के अंदर गिट्टी का मिक्सर प्लांट चल रहा है।मुआवजा ना मिलने पर किसान फसल उगा रहे हैं ।33 केवीए का उपकेंद्र आसपास गांवो को बिजली आपूर्ति कर रहा है।परियोजना परवान ना चढ़ने से युवा बेरोजगार घूम रहा है।