जनपद में बीती रात्रि हुए हादसे में लोगो की मौत के बाद भी लोग जागरूक नही हो रहे है। गुरु पूर्णिमा के अवसर पर मेले का आयोजन नही किया गया,बावजूद इसके श्रद्धालु जान जोखिम में डालकर ट्रेक्टर ट्रालियों पर यात्रा कर रहे है।