निष्पक्ष जनअवलोकन नारायण शुक्ला

 

दिव्यांग प्रकोष्ठ बनाने की बजाय आबादी के अनुसार 10 प्रतिशत टिकट विधानसभा, लोकसभा व पंचायतों में दे राजनीतिक दल

कानपुर| राष्ट्रीय विकलांग पार्टी की शास्त्री नगर सेन्ट्रल पार्क में आयोजित बैठक में राष्ट्रीय महासचिव वीरेन्द्र कुमार ने कहा की राष्ट्रीय विकलांग पार्टी के लगातार बढ़ रहे जनाधार से भयभीत होकर राजनीतिक पार्टियों ने दिव्यांग प्रकोष्ठ बनाना शुरू कर दिया है। राष्ट्रीय विकलांग पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव वीरेंद्र कुमार ने कहा कि राजनीतिक दलों द्वारा पंचायत से लेकर के लोकसभा विधानसभा में दिव्यांगजनों को आबादी के अनुसार 10% टिकट देकर अपनी पार्टी से चुनाव लड़ाना चाहिए। केवल दिव्यांग प्रकोष्ठ बनाने से कुछ नहीं होगा। राजनीतिक पार्टियां जनता का विश्वास खो चुकी है आब केवल राष्ट्रीय विकलांग पार्टी ही विकल्प के रूप में उभर रही है। केवल वोट बैंक के चक्कर में दिव्यांग जनों को दिव्यांग प्रकोष्ठ बनाकर गुमराह किया जा रहा है। सरकार बताये उत्तर प्रदेश और देश में कितने दिव्यांगजनों को सरकारी नौकरी रोजगार दिया। दिव्यांगजनों व देश की जनता के साथ धोखा करने वालों को जनता सबक सिखायेगी। आज की बैठक में राष्ट्रीय महासचिव वीरेन्द्र कुमार, अल्पना कुमारी, राहुल कुमार, आनन्द तिवारी, अरविन्द सिंह, गौरव कुमार, दिलीप कुमार आदि शामिल थे।