हिंदी पत्रकार एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष ने की मीडिया संस्थानों पर छापों के निंदा

निष्पक्ष जन अवलोकन।
बाराबंकी। भारत समाचार चैनल एवं भास्कर समूह प्रतिष्ठान पर कुत्सित सोच के चलते डाले गए छापों से सच को दबाने की कोशिश कामयाब नहीं होगी। पत्रकारों की कलम सरकारी आतंक से नहीं डरेगी। उक्त बात हिंदी पत्रकार एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष कृष्ण कुमार द्विवेदी राजू भैया ने आज जारी प्रेस विज्ञप्ति में कही है।
श्री भैया ने कहा है कि जिस प्रकार से भास्कर समूह एवं भारत चैनल के साथ भाजपा सरकार के इशारे पर छापेमारी की गई है निंदनीय है। उन्होंने कहा कि मीडिया संस्थानों पर सीबीआई , ईडी जैसे सरकारी संस्थानों से छापेमारी कराना सच को दबाने का कृत्य है। राजू भैया ने कहा है कि हिंदी पत्रकार एसोसिएशन वरिष्ठ पत्रकार बृजेश मिश्रा जी के सहित वीरेंद्र सिंह एवं अन्य भारत समाचार के कर्मचारियों के घर पर डाले गए छापो के विरुद्ध चुप नहीं बैठेगा। बल्कि इसके विरुद्ध आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा सरकार को इस कृत्य के लिए आने वाले समय में भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। मीडिया पर हमला लोकतंत्र पर हमला है।श्री भैया ने कहा कि चौथे स्तंभ के साथ ऐसा व्यवहार अघोषित आपातकाल की स्थिति को दर्शाता है। वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजू भैया ने कहा कि यह छापेमारी सरकार की कमियों को उजागर करने के चलते की गई है। जनता नंगी आंखों से केंद्र सरकार का सरकारी आतंक देख रही है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में इसे एक काले दिन व काली कार्यवाही के रूप में याद किया जाएगा। जिसके लिए पत्रकारिता जगत कभी भी भाजपा सरकार को माफ नहीं करेगा।