'अबकी बार सौ पार', एशियन गेम्स में भारत ने बदला 72 साल का इतिहास, पहली बार 100 मेडल

एशियन गेम्स में भारत अब तक हांगझोऊ एशियन गेम्स में 95 मेडल जीत चुका है, जबकि उसके 7 अन्य मेडल पक्के हो चुके हैं।

'अबकी बार सौ पार', एशियन गेम्स में भारत ने बदला 72 साल का इतिहास, पहली बार 100 मेडल

भारत ने एशियन गेम्स में पहली बार 100 मेडल का आंकड़ा छू करके इतिहास रच दिया है। एशियन गेम्स 2023 के 13वें दिन भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने जापान को 5-1 से हराकर गोल्ड मेडल अपने नाम किया है। वहीं रेसलिंग में सोनम मलिक और किरण के ब्रॉन्ज जीतने के साथ ही भारत एशियाई खेलों में 100 मेडल के पार पहुंच गया है। 

भारत अब तक हांगझोऊ एशियन गेम्स में 95 मेडल जीत चुका है, जबकि उसके 7 अन्य मेडल पक्के हो चुके हैं। बस उनका रंग यानी गोल्ड, सिल्वर या ब्रॉन्ज तय होना बाकी है। भारत एशियन गेम्स में अपने पिछले सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 70 मेडल को पहले ही पार कर चुका है। लेकिन अब भारत का एशियन गेम्स में पहली बार 100 पदकों का आंकड़ा छूना और भी खास होगा। 

बता दें कि, एशियन गेम्स की शुरुआत में भारत के लिए 100 मेडल का आंकड़ा असंभव सा लग रहा था। लेकिन भारत की घुड़सवारी, सेलिंग और रोइंग में चौंकाने वाली जीतों और शूटिंग और एथलेटिक्स में मेडल की बौछार ने भारत को पहली बार एशियाई खेलों में मेडल के शतक तक पहुंचने में मदद की। 

साथ ही इस एशियाई गेम्स में भारत ने सर्वाधिक 29 मेडल एथलेटिक्स से जीते, जिनमें से 6 गोल्ड, 14 सिल्वर और 9 ब्रॉन्ज शामिल हैं। इसके बाद भारत को 22 मेडल निशानेबाजी से मिले, जिनमें 7 गोल्ड, 9 सिल्वर और 6 ब्रॉन्ज शामिल हैं। 

घुड़सवारी में भारत ने 42 साल बाद गोल्ड जीता। वहीं बैडमिंटन टीम स्पर्धा में भी भारत ने ऐतिहासिक सिल्वर मेडल अपने नाम किया। 

अभी तक एशियन गेम्स में भारत के कुल मेडल 95 मेडल, 7अन्य मेडल तय

कंपाउंड तीरंदाजी में 3 मेडल- शनिवार को पुरुषों की व्यक्तिगत स्पर्धा के फाइनल में अभिषेक वर्मा का सामना ओजस प्रवीण देवतले से होगा, इसलिए भारत को इसमें गोल्ड या सिल्वर मिलना तय है। इसके साथ ही ज्योति सुरेखा वेन्नम महिला व्यक्तिगत फाइनल में खेलेंगी और उनको स्वर्ण या सिल्वर मिलना तय है। 

कबड्डी में 2 मेडल: भारतीय पुरुष और महिला दोनों ने फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया है। इसमें 2 मेडल पक्के हैं। 

बैडमिंटन में एक मेडल: सात्विक साईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी भी कम से कम ब्रॉन्ज मेडल जीतेंगे। और शनिवार को सेमीफाइनल में मलेशियाई जोड़ी आरोन चिया और सोह वूई यिक का सामना करेंगे। 

पुरुष क्रिकेट में 1 मेडल: ऋतुराज गायकवाड़ की टीम ने सेमीफाइनल में बांग्लादेश पर नौ विकेट की आसान जीत के साथ फाइनल में जगह बनाई है।